Tulsi ke fayde, ये है तुलसी के 15 फायदे – Tulsi benefits in hindi

तुलसी जिसे अंग्रेजी में ‘ होली बेसिल ‘ भी कहा जाता है । यह पौधा भारत के लगभग हर घर में या उस घर के आंगन में पाया जाता है । जहां एक तरफ इसकी धार्मिक मान्यताएं हैं वहीं दूसरी तरफ शरीर के लिए यह बहुत ही फायदेमंद होता है और कई बीमारियों से लड़ने में यह हमारी मदद कर सकता है । तुलसी के पत्ते एवं इसके बीज दोनों ही कई बीमारियों को ठीक करने में काम आते हैं । हिंदू ग्रंथों के अनुसार जिस घर में तुलसी का पौधा होता है उस घर में बैक्टीरिया एवं वायरस घुस नहीं पाते ।

जिसके कारण तुलसी का पौधा उस घर को कई बीमारियों से बचाकर रखता है । साथ ही वहां के वातावरण को भी शुद्ध बनाए रखता है । Healthkenuskhe के इस आर्टिकल में आज आप जानेंगे तुलसी के 15 फायदे ( tulsi ke fayde ) एवं किस प्रकार से इसका उपयोग करना है ताकि यह हमारे लिए फ़ायदेमंद हो एवं ये हमे स्वस्थ रख सके ।

tulsi ke fayde

तुलसी के प्रकार

  1. राम तुलसी
  2. श्याम तुलसी
  3. श्वेत/विष्णु तुलसी
  4. वन तुलसी
  5. नींबू तुलसी

ये भी पढ़ें – आप इनमें से किसी भी तुलसी का प्रयोग कर सकते है |

तुलसी में पाए जाने वाले पोषक तत्व

  • विटामिन –  A, B, C और K
  • कैल्शियम
  • आयरन
  • जिंक
  • मैग्निशियम
  • मैग्नीज
  • ओमेगा-3

tulsi ke fayde

तुलसी के 15 चमत्कारी फायदे – tulsi ke fayde

1) इम्यूनिटी – तुलसी में एंटीबैक्टीरियल और एन्टीफ्लेमेट्री गुण पाए जाते हैं जिसके कारण यह शरीर की इम्युनिटी यानी की प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने में सहायता करती है । यह आपके शरीर को अंदर से मजबूत बनाती है ताकि यह बीमारियों से लड़ सके और आपके शरीर को स्वस्थ रख सके।

2) स्किन इन्फेक्शन स्किन इन्फेक्शन जैसे की दाद, खाज, खुजली और एग्जिमा जैसी समस्याओं में तुलसी रामबाण होता है कुछ दिन ही इसका इस्तेमाल करने से आपकी स्किन संबंधित समस्याएं दूर होने लग जाती है । इसके लिए आप तुलसी के पत्ते का पेस्ट बनाकर अपनी त्वचा पर लगाएं जहां पर इंफेक्शन हुआ हो 5 से 6 दिनों तक ऐसा करने से आपका स्किन इंफेक्शन ठीक हो जाएगा ।

3) तनाव तनाव को दूर करने में भी तुलसी बहुत ही फायदेमंद होता है ( tulsi ke fayde ) । दरअसल जब आप तुलसी का सेवन करना शुरू करते हैं तो यह आपके खून में जाकर आपके शरीर में मौजूद कॉर्टिसोल की मात्रा को कम करता है जिसके कारण आपका तनाव दूर होता है और आपका मूड भी अच्छा हो जाता है । आप इसके लिए 1 गिलास पानी में 5 तुलसी के पत्ते डालकर उसे उबाल लें और उस पानी को पी जाए या फिर आप 2-3 तुलसी की पत्तियां चाय में उबालकर भी पी सकते हैं ।

4) पेट संबंधित बीमारियां तुलसी आपके पेट एवं पाचनतंत्र के लिए भी फायदेमंद होता है ( tulsi ke fayde ) । तुलसी में पाए जाने वाला एंटीबैक्टीरियल और एंटीवायरल गुण आपके पेट एवं पाचनतंत्र में मौजूद बुरे बैक्टीरिया एवं वायरस को खत्म करने में सहायता करता है और आपके पाचन तंत्र को स्वस्थ बनाता है । यदि आपको पेट में गैस है तो तुलसी इसे भी ठीक करती है इसका इस्तेमाल करने के लिए आप रोज सुबह में 4 से 5 तुलसी की पत्तियां खाली पेट में चबाना शुरू करें आपको पेट से संबंधित फायदे होंगे ।

5) अनियमित पीरियड्स अनियमित पीरियड्स में भी तुलसी रामबाण होती है ( tulsi ke fayde ) । यदि महिलाओं में रक्त का स्त्राव ज्यादा हो या पेट दर्द या ऐंठन ज्यादा हो तो इसमें भी आप तुलसी का इस्तेमाल कर सकते हैं । तुलसी के इस्तेमाल से दर्द में राहत मिलती है एवं अनियमित पीरियड्स में भी आराम मिलता है इसके लिए आप 5 तुलसी की पत्तियां उबालकर इसे दिन में 2 से 3 बार पिए ।

6) सर्दी खांसी ठंड के मौसम में सर्दी एवं खांसी होना एक आम बात है पर यदि आप नियमित रूप से तुलसी का सेवन करते हैं तो आपको सर्दी-खांसी जल्दी नहीं होती क्योंकि यह आपके प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है एवं आपके शरीर को गर्म रखने में मदद करता है ( tulsi ke fayde ) । इसके लिए आप रोज सुबह में खाली पेट 4 से 5 तुलसी की पत्तियां चबाएँ ।

7) हाई ब्लडप्रेशर हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए तुलसी एक बहुत ही अच्छा विकल्प है कई लोग ब्लड प्रेशर की गोलियां खाते हैं ताकि उनका हाई ब्लड प्रेशर नियंत्रण में रहे पर आप चाहे तो रोज सुबह में चार से पांच तुलसी की पत्तियां चबाकर भी अपना ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रख सकते हैं और तुलसी के सेवन से आप को किसी प्रकार का नुकसान भी नहीं होगा ।

8) किडनी स्टोन (पथरी) आज के समय में पथरी की बीमारी भी काफी ज्यादा बढ़ रही है । जिस प्रकार का खानपान आज के समय में इंसानों का हो चुका है किडनी स्टोन उसका एक परिणाम है पर तुलसी आपको किडनी स्टोन यानी की पथरी से दूर रख सकती है । बस इसके लिए आपको रोज 4 से 5 तुलसी के पत्ते खाने हैं । दरअसल तुलसी के पत्तों में विटामिन-C पाया जाता है जो किडनी में पथरी को जमने से रोकता है और यदि पथरी है तो उसे गला देता है और यदि आपको पथरी है तो वह ठीक हो जाती है और अगर नहीं है तो कभी नहीं होती ।

9) वजन करें कम तुलसी एक नेचुरल फैट बर्नर भी माना जाता है । यदि आप रोज 4 से 5 तुलसी की पत्तियां खाते हैं तो यह आपके शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करता है एवं यह आपके शरीर में अधिकतम फैट को गलाने में भी सहायता करता है जिसके कारण आपका वजन नियंत्रण में रहता है और आप अपने अच्छे शेप में बने रहते हैं ( tulsi ke fayde ) । अगर आप रोज एक गिलास पानी में 5 तुलसी की पत्तियां उबालकर उस पानी को पीते हैं तो आपके वजन बढ़ने की संभावना बहुत कम हो जाती है। पढ़ें – Motapa kam karne ke upay |

10) आंख तुलसी विटामिन-A से समृद्ध होता है और यदि आप तुलसी का सेवन करते हैं तो आपको आंखों से संबंधित कई समस्याएं नहीं होंगी । आप चाहे तो रोज सुबह में तुलसी के पानी से अपनी आंखों को धो सकते हैं, ऐसा करने से आपकी आंखों में संक्रमण नहीं होता और यदि किसी प्रकार का संक्रमण है तो वह भी जल्द ठीक हो जाता है । इसका इस्तेमाल करने के लिए आप 2 ग्लास पानी में 10 पत्तियां उबाल लें और उसे ठंडा करके अपनी आंखों पर छींटे मारें । तुलसी का प्रभाव आपकी आंखों को स्वस्थ बनाए रखेगा और किसी भी संक्रमण को होने से रोकेगा । पढ़ें – Home remedies for eyesight improvement |

11) सिर दर्द – सिर दर्द को भी दूर करने में तुलसी रामबाण होता है ( tulsi ke fayde ) । दरअसल तुलसी को एक नेचुरल पेन किलर भी माना जाता है । इसका इस्तेमाल करने के लिए आप अपनी चाय में 4 से 5 तुलसी के पत्ते उबालकर उस चाय को पिए आपका सर दर्द ठीक हो जाएगा । आप चाहे तो 4 से 5 तुलसी की पत्तियां भी चबा सकते हैं ऐसा करने से भी आपके सिर दर्द में आपको काफी राहत मिलेगी ।

12) हार्ट अटैक – तुलसी आपके दिल को स्वस्थ रहने में मदद करता है । तुलसी आपके खून में मौजूद बैड कोलेस्ट्रोल को कम करता है, आपके हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करता है जिसके कारण आपका दिल स्वस्थ रहता है और आपको हार्ट अटैक होने की संभावना कम हो जाती है ।

13) डैंड्रफ – ठंड में डैंड्रफ की समस्या काफी बढ़ जाती है और बाल भी काफी रूखे हो जाते हैं । इसके लिए आप तुलसी का पाउडर लेकर अपने बाल धो सकते हैं । ऐसा करने से आपके डैंड्रफ खत्म हो जाते हैं एवं आपके बाल भी मुलायम बनते हैं ( tulsi ke fayde ) । इसका इस्तेमाल करने के लिए आप 2 चम्मच तुलसी का पाउडर ले और उसका पेस्ट बनाकर अपने बालों में अप्लाई करें और 30 मिनट तक उसे रहने दें और ठंडे पानी से फिर धो लें ऐसा 2 से 3 दिन तक करें आपकी डैंड्रफ की समस्या दूर हो जाएगी  और आपके बाल भी मजबूत बनेंगे ।

यदि किसी प्रकार का संक्रमण आपके सिर में होगा तो वह भी ठीक हो जाएगा । तुलसी का पाउडर आपको मार्केट में मिल जाएगा पर ध्यान रहे कि वह एक अच्छी क्वालिटी का तुलसी पाउडर हो क्योंकि मार्केट में  कई  तुलसी पाउडर नकली भी होते हैं जो आपके बालों को नुकसान पहुंचा सकते हैं  । आप चाहे तो नीचे दी गई लिंक से भी तुलसी पाउडर खरीद सकते हैं यह एक अच्छी क्वालिटी का तुलसी पाउडर है जिसे Healthkenuskhe के द्वारा सुझाया गया है । ये है बालों को झड़ने से रोकने का उपाय – Hair fall treatment in hindi |  खरीदने के लिए क्लिक करें |

14) लिवर तुलसी लीवर के लिए भी बहुत ही लाभकारी होता है क्योंकि यह तुलसी को डिटॉक्स करने में मदद करता है ( tulsi ke fayde ) | दरअसल ज्यादा तला हुआ एवं मसालेदार खाना खाने की वजह से लिवर में काफी हानिकारक टॉक्सिंस जम जाते हैं पर यदि आप रोज सुबह में 4:00 से 5:00 तुलसी के पत्ते चलाना शुरु करते हैं तो यह सारे टॉक्सिंस लीवर से बाहर हो जाते हैं जिसके कारण आपका लीवर स्वस्थ हो जाता है और आपका खाना भी अच्छी तरह पता है और आपको समय पर जमकर भूख भी लगती है |

15) सूजन कई बार शरीर के कुछ अंगों में सूजन आ जाती है इसके कई कारण हो सकते हैं और हम इन कारणों के बारे में बात नहीं करेंगे हां पर तुलसी इन सूजनों को कम करने में सहायता कर सकती है ( tulsi ke fayde ) । इसके लिए आप पानी में तुलसी के पत्ते उबाल लें और उस गर्म पानी में अपने उस सूजे हुए अंग को डुबाएं या एक सूती के कपड़े से उस तुलसी के गर्म पानी से अपने उस सूजे हुए अंग को सकें आपका सूजन धीरे-धीरे कम हो जाएगा ।

tulsi ke fayde

तुलसी के कुछ नुकसान

अब आप भी सोच रहे होंगे कि तुलसी जैसी गुणकारी चीज के भला नुकसान कैसे हो सकते हैं तो आपको बता दें कि आयुर्वेद के अनुसार किसी भी चीज के फायदे एवं नुकसान उसे ली गई मात्रा एवं परिस्थितियों पर निर्भर करते हैं और यदि किसी चीज का सेवन अधिक मात्रा में किया जाए तो भी उसका नुकसान ही होता है चाहे वह तुलसी जैसी गुणकारी चीज ही क्यों ना हो | तो आइए जानते हैं तुलसी के कुछ नुकसान जिसके बारे में शायद आप नहीं जानते होंगे ।

1) गर्भवती महिलाओं के लिए नुकसानदायक शायद आपको यह बात पता नहीं होगी पर तुलसी में एंटीफर्टिलिटी गुण भी पाए जाते हैं इसका मतलब होता है कि यदि कोई महिला गर्भधारण करना चाहती है या फिर वह गर्भवती है तो उसे तुलसी का सेवन नहीं करना चाहिए वरना उनके बच्चे को नुकसान पहुंच सकता है ।

2) लो ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए नुकसानदायक – अगर आपको लो ब्लड प्रेशर की समस्या है तो आपको तुलसी का सेवन बिलकुल नहीं करना चाहिए क्योंकि तुलसी ब्लड प्रेशर को कम करता है और यदि लो ब्लड प्रेशर के मरीज तुलसी का सेवन करेंगे तो उनका ब्लड प्रेशर और भी कम हो सकता है जो आपके लिए सही नहीं होगा इसलिए लो ब्लड प्रेशर के मरीज तुलसी का सेवन बिल्कुल ना करें ।

3) चाय के शौकीन – यदि आप दिन भर में ज्यादा चाय पीते हैं तो आपको उसमें हर बार अदरक और तुलसी नहीं मिलानी चाहिए क्योंकि यह दोनों ही चीजें काफी गर्म होती है और यदि आप बार-बार अदरक और तुलसी वाली चाय पिएंगे तो यह आपको एसिडिटी जैसी समस्या दे सकती है साथ ही आपके पेट में गैस भी हो सकता है ।

4) मधुमेह के मरीज – अगर आप मधुमेह के मरीज है यानी कि डायबिटीज के मरीज हैं और अगर आप डायबिटीज के लिए दवाई लेते हैं या इंसुलिन का इंजेक्शन लेते हैं तो आपको तुलसी का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि यह आपके रक्त शर्करा को कम कर सकता है । जानिए डायबिटीज के बारे में सबकुछ – Diabetes in hindi |

tulsi ke fayde

कुछ जरूरी बातें

1) तुलसी के पत्तों का इस्तेमाल करने से पहले उन पत्तों को अच्छी तरह से धो लें ताकि उन पत्तों में जमी गंदगी आपके शरीर में ना जा सके ।

2) तुलसी के पुराने पत्तों का सेवन या फिर वह पत्ते जो पीले पड़ चुके हैं उनका सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए क्योंकि इन पुराने पत्तों का फायदा कम और नुकसान ज्यादा होता है ।

3) अगर आप चाहते हैं कि आपके घर में मच्छर एवं मक्खियां कम हो और आपके घर में कम लोग बीमार पड़े तो आप अपने घर या आंगन में एक तुलसी का पौधा अवश्य लगाएं यह बीमारियों से आपके घर की रक्षा करेगा ।

Leave a Comment