Safed musli ke fayde, upyog aur nuksan – सफेद मूसली के फायदे, उपयोग और नुकसान

सफेद मूसली खाने से स्वास्थ्य को कई बड़े फायदे मिलते है । आज आप Healthkenuskhe के इस लेख में जानेंगे सफेद मूसली क्या है और इसमें कौन से पौष्टिक तत्व पाए जाते है, इसके अलावा हम आपको safed musli ke fayde, उपयोग और सफेद मूसली के नुकसान भी बताएंगे । इसलिए अंत तक जरूर पढ़ें क्योंकि अधूरी जानकारी सेहत के लिए खतरनाक हो सकती है ।

सफेद मूसली का इस्तेमाल आयुर्वेद के जमाने से किया जा रहा है और आयुर्वेद में इसका काफी ज्यादा महत्व भी है आयुर्वेद में इसका इस्तेमाल व्यापक रूप से किया जाता है । यह एक ऐसा पौधा है जिसे भारत में भारतीय वियाग्रा या हर्बल वियाग्रा का दर्जा दिया गया है । इसके कई छोटे-बड़े फायदे है लेकिन इसका सबसे बड़ा फायदा यौन शक्ति को बढ़ाना और नपुंसकता को ठीक करना है ।

सफेद मूसली क्या है ?

सफेद मूसली को आयुर्वेद में सफेद सोना भी माना जाता है । इसे अंग्रेजी में क्लोरोफिटम बोरिविलयनम ( Chlorophytum borivilianum ) कहा जाता है । यह पौधा लिलियासी परिवार से ताल्लुक रखता है । आपको बता दें कि हजारों वर्षों से आयुर्वेद में इसका प्रयोग होता आया है ।

सिर्फ आयुर्वेद में ही नहीं बल्कि यूनानी, होम्योपैथिक और एलोपैथिक चिकित्सा में भी इसका प्रयोग होता है । सफेद मूसली की सबसे खास बात यह है कि इसमें anti-oxidant, anti-microbial, anti-inflammatory तत्व होते हैं जो इसकी गुणवत्ता को बढ़ा देते है । तो आइए अब जानते है कि सफेद मूसली में कौन से पौष्टिक तत्व पाए जाते है । उसके बाद हम सफेद मूसली के फायदे जानेंगे ।

सफेद मूसली के पौष्टिक तत्व

पोषक तत्व मात्रा
कार्बोहाइड्रेट 35 से 45 प्रतिशत
प्रोटीन 5 से10 प्रतिशत
फाइबर 25 से 35 प्रतिशत
सैपोनिन्स 2 से 6 प्रतिशत
एल्कलॉइड 15 से 25 प्रतिशत

सफेद मूसली पौष्टिक तत्वों का भंडार है और अगर कोई व्यक्ति इसका सेवन लगातार करेगा तो उसे नीचे बताए गए सफेद मूसली के फायदे जरूर मिलेंगे । तो आइए अब हम सफेद मूसली के उन फायदों को जान लेते है ।

safed musli ke fayde

सफेद मूसली के फायदे – Safed musli ke fayde

1) रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है

सफेद मूसली का सेवन करने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है जिससे छोटे-मोटे रोग नहीं होते हैं । यदि आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कम है तो आपको कोई भी रोग आसानी से हो सकता है । इसलिए आप सफेद मूसली का सेवन करें ताकि आप स्वस्थ और निरोग रहे । इस संक्रमण से भी आपका बचाव करेगी । Safed musli ke fayde रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते है ।

2) वजन बढ़ने में सफेद मूसली के फायदे

कई लोगों की यह शिकायत होती है कि उनका वजन नहीं बढ़ रहा है अगर आप भी उनमें से एक हैं तो आपको एक बार सफेद मूसली का सेवन करके जरूर देखना चाहिए । सफेद मूसली आपके पाचन तंत्र को दुरुस्त कर देता है एवं आपके मेटाबॉलिज्म को बैलेंस कर देता है जिसके कारण आप जो भी खाते हैं आपके शरीर को अंग लगता है । सफेद मूसली के सेवन से आपकी भूख भी बढ़ती है जिसके कारण धीरे-धीरे आपका वजन जितना बढ़ना चाहिए उतना बढ़ जाता है । अगर आप इसका ज्यादा फायदा उठाना चाहते हैं तो इसका सेवन कम से कम 6 महीने अवश्य करें ।

ये भी पढ़ें – वजन बढ़ाने के तरीके

3) अर्थराइटिस में सफेद मूसली बेनिफिट्स

उम्र ढलने के साथ-साथ इंसान की हड्डियां भी कमजोर होती जाती है और जोड़ों में भी दर्द शुरू हो जाता है जिसे हम अर्थराइटिस की समस्या के नाम से भी जानते हैं । यदि आप इससे बचना चाहते हैं तो सफेद मूसली का सेवन करें क्योंकि यह इस समस्या को खत्म करता है । यह हड्डियों को मजबूत बनाता है ।

4) नपुंसकता ठीक करता है

सफेद मूसली के सेवन से वीर्य की गुणवत्ता बढ़ती है । इसके सेवन से नपुंसकता जैसी बीमारी ठीक होती है । कई बार किसी बीमारी की वजह से erectile dysfunction होता है । ऐसे में मूसली का सेवन करना चाहिए क्योंकि इसके सेवन से यह समस्या ठीक हो जाती है 

5) उत्तेजना को बढ़ाता है

सफेद मूसली का सेवन करने से यौन कठिनाइयों का भी सामना किया जा सकता है जिसमें erectile dysfunction भी शामिल है । यौन कामेच्छा को बढ़ाने के लिए यह जड़ी बूटी बेहद कारगर है । Safed musli ke fayde उत्तेजना को बढ़ाते है ।

6) डायबिटीज में सफेद मूसली के फायदे

सफेद मूसली का सेवन डायबिटीज में सहायक होता है क्योंकि इसमें anti-oxidant और anti-biotic गुण होते हैं जो डायबिटीज के रोग को ठीक करने में काम आते हैं हालांकि इसके इस्तेमाल से पतले या कम वजन वाले मधुमेह रोगियों का ही उपचार किया जा सकता है । जो लोग मोटे हैं और डायबिटीज के मरीज हैं उनपर इसका असर थोड़ा कम होता है ।

ये भी पढ़ें – डायबिटीज के लक्षण और इलाज

7) वजन कम करता है

वजन बढ़ाने में तो सफेद मूसली फायदेमंद है । इसके साथ ही साथ वजन कम करने में भी सफेद मूसली कारगर है । इसके लिए सफेद मूसली का उपयोग आपको सही तरीके से करना होगा । रात में सोने से पहले एक गिलास गर्म पानी में आधा चम्मच सफेद मुसली पाउडर मिलाएं और फिर उसका सेवन करें । ऐसा कुछ दिनों तक लगातार करने से आपको आपके वजन में फर्क महसूस होने लगेगा ।

ये भी पढ़ें – मोटापा बढ़ने के कारण और इसे कम करने के उपाय

8) शारीरिक शक्ति बढ़ाने में safed musli benefits

आयुर्वेद के अनुसार यदि सफेद मूसली का सेवन दूध के साथ किया जाए तो यह शारीरिक शक्ति को बढ़ाता है और सभी प्रकार की शारीरिक कमजोरियों को दूर करता है । इसलिए बड़े-बड़े body builders को भी इसके सेवन की सलाह दी जाती है ।

9) शरीर को detoxify करता है

सफेद मूसली के फायदे ना सिर्फ शरीर के बाहरी हिस्सों के लिए है बल्कि अंदरूनी हिस्सों के लिए भी है । सफेद मूसली का सेवन शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालने में काफी ज्यादा सहायक है । यदि आप इसका सेवन करेंगे तो इससे आपके शरीर से सारे विषैले पदार्थ बाहर निकल जाएंगे । इसमें anti-oxidant की मात्रा भरपूर होती है जो शरीर के लिए किसी वरदान से कम नहीं है । Safed musli ke fayde शरीर को पूरी तरह से detoxify कर देते है ।

ये भी पढ़ें – पेट साफ करने के तरीके

10) तनाव को दूर करने में सफेद मूसली के फायदे

यदि आप अक्सर तनाव में रहते हैं तो आपको सफेद मूसली का सेवन करना चाहिए । यह तनाव को दूर करने में सहायक होता है । साइंटिफिक रूप से इस बात को अभी तक सिद्ध नहीं किया गया है लेकिन लोगों का मानना है कि इसके सेवन से तनाव दूर होता है ।

ये भी पढ़ें – तनाव कैसे दूर करें

11) गठिया और जोड़ों का दर्द

गठिया और जोड़ों का दर्द आज के समय में काफी तेजी से बढ़ रही है, ऐसे में ज्यादा पेन किलर का सेवन करने से इसके side effect हो सकते है पर इस दर्द को कम करने के लिए आप सफेद मूसली का प्रयोग भी कर सकते हैं जिसका side effect नहीं होता और यह एक नैचुरल पेनकिलर की तरह काम कर सकता है ।

NCBI की एक रिपोर्ट के अनुसार चूहों पर हुए एक शोध के अनुसार सफेद मूसली में Saponin नाम का एक compound होता है जिसमें anti-inflammatory और anti-arthritis गुण होते हैं जो जोड़ों के दर्द को कम करने में मदद करते हैं इसलिए अगर आप भी गठिया एवं जोड़ों के दर्द से परेशान हैं तो आपको भी सफेद मूसली का सेवन करके अवश्य देखना चाहिए, आपके दर्द में बहुत कमी आ जाएगी ( Source )

12) दस्त में सफेद मूसली के फायदे

कई बार गलत lifestyle अथवा गलत खानपान की आदतों की वजह से दस्त जैसी समस्या आन पड़ती है । यह समस्या ज्यादातर बच्चों में होती है । इस अवस्था में सफेद मूसली का इस्तेमाल करके आप दस्त को ठीक कर सकते हैं बस बच्चे को एक ग्लास गुनगुने पानी में आधा चम्मच सफेद मूसली का पाउडर मिलाकर पिलाएं । कुछ देर में दस्त की समस्या ठीक होने लगेगी, हालांकि अभी तक यह बात सिद्ध नहीं हुई है कि सफेद मूसली के कौन से गुण के कारण दस्त ठीक होता है इसमें और भी शोध होने की आवश्यकता है ( Source )

13) गर्भावस्था मे फायदेमंद

जब महिला गर्भवती होती है तो उनके शरीर को बहुत से जरूरी तत्वों की आवश्यकता पड़ती है और गर्भवती महिलाओं को अपने खाने पीने का विशेष ध्यान रखना चाहिए । ऐसे में अगर गर्भवती महिलाएं सफेद मूसली का सेवन करती हैं तो यह उनके लिए टॉनिक की तरह काम करता है और बच्चे एवं मां की सेहत को बरकरार रखने में मदद करता है ।

यही नहीं डिलीवरी के दौरान होने वाले खून की कमी अथवा शरीर में तरल पदार्थ की कमी होने से भी रोकता है, हालांकि आपको गर्भावस्था के दौरान सफेद मूसली का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य लेनी चाहिए ।

14) दर्द निवारक गुण

सफेद मूसली में Saponin नाम का एक गुणकारी तत्व होता है जिसमें anti-inflammatory तत्व होते हैं । यह तत्व सूजन से होने वाले दर्द को ठीक करने में मदद करते हैं यानी कि सफेद मूसली को प्राकृतिक पेनकिलर कहा जाए तो गलत नहीं होगा । अगर आपको जोड़ों का दर्द है या किसी अन्य प्रकार के सूजन के कारण दर्द है तो आपको सफेद मूसली का सेवन अवश्य करना चाहिए, इससे आपका सूजन भी कम हो जाएगा और दर्द भी कम होने लगेगा ।

यह थे safed musli ke fayde लेकिन यह फायदे आपको तभी मिलेंगे जब आप इसका उपयोग सही तरीके से करेंगे । अब हम आपको बताएंगे कि आप सफेद मूसली का उपयोग कैसे कर सकते है ।

सफेद मूसली का उपयोग कैसे करें

सफेद मूसली का उपयोग कैसे करें – How to use safed musli in hindi ?

बाजार में आपको आसानी से सफेद मूसली की जड़ी बूटी मिल जाएगी । उस जड़ी-बूटी को धूप में सुखाकर उसका चूर्ण तैयार कर ले और फिर रात को आधी छोटी चमच्च चूर्ण को दूध में डालकर उस दूध का सेवन करें । Safed musli ke fayde आपको तभी मिलेंगे जब आप सफेद मूसली का उपयोग सही तरीके से करेंगे ।

अगर आपको बाजार में सफेद मूसली की जड़ नहीं मिलती है तो आप किसी भी पतंजलि स्टोर पर जाकर सफेद मूसली का पाउडर खरीद सकते है पर ध्यान रहे कि आप जो भी पाउडर खरीदें वह original हो और अच्छी quality का होना चाहिए क्योंकि बाजार में पतंजलि के duplicate product भी मिलते है । इसका उपयोग हमारे बताए गए तरीके से करने से आपको फायदा जरूर होगा ।

सफेद मूसली की खुराक कितनी होनी चाहिए ?

किसी भी दवा चाहे वह आयुर्वेदिक हो या अंग्रेजी उसकी सही खुराक लेने से ही समस्या हल हो सकती है गलत खुराक लेने से उल्टा नुकसान भी हो सकता है । इसलिए अगर आप भी चाहते है कि सफेद मूसली के फायदे आपको मिले तो सफेद मूसली की सही खुराक के बारे में भी जान लीजिए ।

एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार 1 दिन में 15 ग्राम सफेद मूसली का सेवन काफी है यानी कि आप 1 दिन में एक गिलास दूध में 15 ग्राम सफेद मूसली का सेवन ही कर सकते हैं, अगर आप इससे ज्यादा सफेद मूसली का सेवन करते हैं तो आपको सफेद मूसली के नुकसान हो सकते है । कुछ लोगों को सफेद मूसली का सेवन कम ही करना चाहिए या फिर नहीं करना चाहिए क्योंकि इसके सेवन से उन्हें नुकसान हो सकता है ।

  • बच्चों को आप 1 ग्राम सफेद मूसली दे सकते है लेकिन पहली बार जब बच्चे इस चीज का सेवन करते है तो उन्हें पेट संबंधित या फिर स्वास्थ्य संबंधित समस्याएं हो सकती है तो आप बच्चों को इसका सेवन ना ही करने दें तो बेहतर होगा ।
  • जिन लोगों की उम्र 60 वर्ष से ज्यादा है वह लोग ज्यादा से ज्यादा 6 ग्राम मूसली का ही सेवन कर सकते है ।
  • गर्भवती महिलाओं को सफेद मूसली के सेवन से बचना चाहिए ।

सफेद मूसली के नुकसान

सफेद मूसली के नुकसान – Safed musli ke nuksan

हालांकि, सफेद मूसली के नुकसान ज्यादा नहीं है पर अगर आप ज्यादा मात्रा में इसका सेवन करेंगे तो आपको कुछ नुकसान देखने को मिल सकते है । तो आइए जानते है उन नुकसानों के बारे में –

1) सफेद मूसली एक प्राकृतिक जड़ी बूटी है जिसे पचाने में थोड़ा वक्त लगता है । इसलिए इसका सेवन करने के बाद तुरंत नहीं सोना चाहिए क्योंकि सोते वक्त पाचन तंत्र inactive हो जाता है । इसलिए पाचन तंत्र पर इसका प्रभाव पड़ता है ।

2) यदि आप सफेद मूसली का ज्यादा सेवन करेंगे तो इससे आपको कब्ज की परेशानी हो सकती है । इसलिए निर्धारित मात्रा में ही इसका सेवन करें ।

ये भी पढ़ें – कब्ज के लक्षण, कारण और इलाज

3) सफेद मूसली की तासीर ठंडी होती है जिससे खांसी यानी कफ की समस्या हो सकती है ।

4) यदि आप त्वचा संबंधित समस्याओं से गुजर रहे हैं तो आप सफेद मूसली का सेवन ना करें क्योंकि त्वचा संबंधित समस्या होने पर इसका सेवन करने से एलर्जी हो सकती है ।

यहाँ से खरीदें सफेद मूसली पाउडर

patanjali safed musli

1) पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण – यह पतंजलि कंपनी का सफेद मूसली है जिसकी quality काफी अच्छी है और कीमत भी सही है – क्लिक कर खरीदें

dabur safed musli

2) डाबर सफेद मूसली चूर्ण – यह डाबर कंपनी का सफेद मूसली है आप इसे भी खरीद सकते हैं । इसकी भी quality पर आप विश्वास कर सकते हैं – क्लिक कर खरीदें

baidyanath safed musli

3) बैद्यनाथ सफेद मूसली चूर्ण – यह बैद्यनाथ कंपनी का सफेद मूसली है । आप इस कंपनी का प्रोडक्ट भी खरीद सकते हैं – क्लिक कर खरीदें

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको सफेद मूसली से संबंधित सारी जानकारियां मिल चुकी होगी और आप ” सफेद मूसली के फायदे, उपयोग और नुकसान ” जान चुके होंगे, अगर अभी भी आपके मन में कोई सवाल है तो comment box में पूछे हमारी टीम आपके सवालों का जवाब देने की पूरी कोशिश करेगी । अगर आप चाहते हैं कि हमारी अगली पोस्ट भी आप तक पहुंचे तो हमारी website healthkenuskhe.com को अभी subscribe कर लें, आपका दिन शुभ हो धन्यवाद ।

Leave a Comment