पथरी के लक्षण, कारण और इलाज – Pathri ke lakshan, karan aur ilaj

क्या आपको पसलियों के नीचे और कमर के पीछे तेज दर्द होता है और ऐसा लगता है कि अंदर कुछ चुभ रहा है तो यह लक्षण किडनी स्टोन यानी की पथरी के हो सकते हैं और पूरी संभावना है कि आप इस बीमारी से ग्रस्त हो चुके हैं इसलिए इस लेख को पूरा जरूर पढ़ें क्योंकि आज Healthkenuskhe के इस लेख में आप जानेंगे पथरी क्या है, पथरी के लक्षण, पथरी होने के कारण, pathri me kya khana chahiye, क्या नहीं खाना चाहिए और pathri ka ilaj । इसलिए अंत तक जरूर पढ़ें क्योंकि अधूरी जानकारी सेहत के लिए खतरनाक हो सकती है ।

what is kidney stone in hindi

पथरी क्या है – What is kidney stone in hindi ?

किडनी में स्टोन यानी की पथरी तब बनती है जब urine में कैल्शियम oxalate और uric एसिड की मात्रा ज्यादा हो जाती है, सर्दियों में बाहर का तापमान कम हो जाता है इसलिए वाष्पीकरण भी कम होता है, लेकिन पानी कम पीने से स्टोन बनने का खतरा ज्यादा बढ़ जाता है, ऐसा इसलिए होता है क्योंकि यूरिन के साथ salt भी निकल जाते हैं ।

ये भी पढ़ें – यूरिक एसिड बढ़ने के कारण, लक्षण और इलाज

लेकिन पानी कम पीने से salt के यह crystals किडनी और मूत्र मार्ग के अन्य भागों में जाकर एकत्र हो जाते हैं और एक बड़े स्टोन यानी कि पथरी का निर्माण कर लेते हैं। दोस्तों आगे इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि पथरी होने के कारण क्या होते है, किन चीजों को खाने से किडनी स्टोन यानी कि पथरी हो सकती है और पथरी का इलाज ( pathri ka ilaj ) क्या है । इसलिए अंत तक जरूर पढ़ें ।

किडनी स्टोन के लक्षण

पथरी/किडनी स्टोन के लक्षण – Pathri ke lakshan

वैसे तो अधिकतर किडनी स्टोन किडनी में ही फंसी रहती है और यदि उन्हें निकालना है तो किडनी का ऑपरेशन करना पड़ता है पर कई बार जब यह पेशाब के साथ बहकर मूत्रमार्ग के अन्य भागों में अटक जाते हैं जिससे संक्रमण होने का भी खतरा होता है और यूरिन पास होने में दिक्कत आती है ।

किडनी स्टोन के कारण पेट में बहुत दर्द ( pathri ka dard ) हो सकता है लेकिन अगर समय रहते इन्हें निकाल दिया जाए तो शरीर को किसी भी प्रकार का नुकसान नहीं पहुंचता । आइए अब जान लेते हैं कि पथरी के लक्षण क्या होते है और आप कैसे किडनी स्टोन के लक्षण पहचान सकते है । ये है किडनी स्टोन के लक्षण –

  • जहां पर किडनी होती है उस जगह पर तेज़ दर्द महसूस होना ।
  • पीठ में दर्द होना साथ ही उल्टी एवं मतली आना ।
  • गाढ़ा एवं बदबूदार मूत्र होना ।
  • कई बार मूत्र के मार्ग में पथरी आ जाने के कारण तेज़ मूत्र लगने का एहसास होना ।
  • पेशाब के साथ खून का आना ।
  • पथरी के छोटे-छोटे टुकड़े पेशाब के साथ बाहर निकलना ।

अब हम जानेंगे पथरी होने के कारण ।

पथरी होने के कारण

पथरी होने के कारण – Pathri hone ke karan

किडनी में स्टोन बनने का कोई निश्चित कारण नहीं है । पथरी अधिकतर किडनी के फिल्टर मेकैनिज्म में खराबी आने की वजह से होती है इस कारण यूरिन में कुछ रसायन अधिक हो जाते हैं जो जमा होकर पथरी ( pathri ) का रूप ले लेते है । किडनी स्टोन अधिकतर मिनरल्स और साल्ट से निर्मित होते हैं ।

किडनी स्टोन जिसकी तस्वीर आप देख रहे हैं वह असलियत में मिनरल्स और salt है जो एक जगह इकट्ठा होकर पथरी का रूप ले लेते हैं और एक पत्थर की तरह किडनी में जाकर कहीं पर जम जाते हैं और जब यह पत्थर और भी बड़े होने लग जाते हैं तब यह दर्द और समस्याएं पैदा करने लग जाते हैं ।

इन बुरी आदतों की वजह से भी होती है पथरी

Pathri hone ke karan बहुत सारे हो सकते है पर हम कुछ ऐसी बुरी आदतों के बारे में बताएंगे जो पथरी के होने का कारण बनती है ।

1) कम पानी पीना – गर्मियों के दिनों में आपको 3 से 4 लीटर पानी अवश्य पीना चाहिए और गर्मियों में लोग अक्सर इतना पानी पी भी लेते हैं पर खासकर सर्दियों के दिन में लोग पानी नहीं पीते या बहुत कम पीते हैं और जब शरीर में पानी की पर्याप्त मात्रा नहीं होती तो किडनी की अच्छी तरह सफाई नहीं हो पाती । हर किसी की किडनी में थोड़े-थोड़े किडनी स्टोन अवश्य होते हैं जो रोज सही मात्रा में पानी पीने से साफ होते रहते हैं पर जब कोई व्यक्ति पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं पीता तो वही किडनी स्टोन इकट्ठा होते जाते हैं और एक विकराल रूप ले लेते हैं और दर्द का कारण भी बनते हैं ।

ये भी पढ़ें – गर्म पानी पीने के फायदे और नुकसान

2) चाय कॉफी का ज्यादा सेवन – यह देखा गया है कि जिन लोगों में चाय कॉफी पीने की आदत ज्यादा होती है उन लोगों में पथरी की समस्या होने की संभावना ज्यादा रहती है चाय और कॉफी में ऑक्सालेट की मात्रा ज्यादा होती है और यह पथरी बनाने में मदद करता है इसलिए आपको चाय-कॉफी कम से कम पीनी चाहिए और उसकी जगह पर्याप्त मात्रा में पानी का सेवन करना चाहए ।

3) फास्ट फूड – आज के समय में फास्ट फूड का चलन बढ़ गया है, युवा स्वाद की ओर बढ़ रहे हैं और केमिकल-मसालेदार भरा खाना खा रहे हैं जो लंबे समय में उनकी हेल्थ को खराब कर रहा है । ज्यादा नमक मसाले वाला खाना सबसे पहले उनकी किडनी को नुकसान पहुंचाता है और उनकी किडनी में पथरी का कारण बनता है इसलिए आपको कोशिश करनी चाहिए कि आप कम से कम फास्ट फूड का सेवन करें । घर का खाना आपके लिए सबसे बेस्ट है और घर के खाने से सेहतमंद और कुछ भी नहीं हो सकता ।

4) पैकेज्ड फूड – युवाओं और बच्चों में पैकेज्ड फूड का चलन भी बहुत ज्यादा बढ़ रहा है, पैकेज्ड फूड प्रोसेस करके बनाए जाते हैं जिनमें कई प्रकार के केमिकल, नमक और मसाले डाले जाते हैं । एक और प्रकार का नमक होता है जिसे अजीनो मोटो कहते हैं जो खाने का स्वाद तो बढ़ा देते हैं पर कैंसर कारक भी माना गया है । उसका इस्तेमाल इन पैकेट फूड में धड़ल्ले से हो रहा है और यह किडनी स्टोन बनाने का एक मुख्य कारण भी होता है इसलिए आपको पैकेज्ड फूड का सेवन कम से कम करना चाहिए या फिर पूरी तरह से छोड़ देना चाहिए ।

5) कोल्ड ड्रिंक – गर्मियों का मौसम आते ही लोग कोल्ड ड्रिंक पीना शुरू कर देते हैं । क्या आप जानते हैं कि कोल्ड ड्रिंक में क्या होता है ? नहीं ! तो चलिए विस्तार से बताते हैं आपको, कोल्ड ड्रिंक में चीनी, सोडा कलर और प्रिजर्वेटिव मिलाए जाते हैं और इस कोल्ड ड्रिंक में ऐसी कोई भी चीज नहीं होती जो आपके शरीर को फायदा पहुंचाती हो ।

कोल्ड ड्रिंक पीने से आपके शरीर को सिर्फ और सिर्फ नुकसान होता है और लंबे समय तक इसका सेवन करने से आपको कई प्रकार की गंभीर बीमारियां भी हो सकती है जिनमें से एक बीमारी है किडनी स्टोन । कोल्ड ड्रिंक में मौजूद सोडा आपकी किडनी में ऑक्सलेट की मात्रा को बढ़ाता है और किडनी स्टोन बनाने में मदद करता है इसलिए कोल्ड ड्रिंक छोड़कर फलों का जूस या नारियल पानी पीना शुरू करें यदि आप किडनी स्टोन से बचना चाहते हैं ।

हमें उम्मीद है कि आप पथरी होने के कारण जान चुके होंगे, तो अब जानते है कि pathri me kya khana chahiye ।

पथरी में क्या खाना चाहिए – Pathri me kya khana chahiye ?

  • खट्टे फलों को अपनी डाइट में शामिल करें जैसे कि संतरा, नींबू, मोसंबी आदि ।
  • फाइबर युक्त भोजन करें जैसे कि गेहूं, बाजरा, जॉ, मक्का आदि ।
  • लो ऑक्सलेट फलों को शामिल करें जैसे कि सेब, नाशपाती, अनार, खरबूजा आदि ।

आइये अब जानते है कि पथरी हो जाने पर क्या करना चाहिए ।

किडनी स्टोन हो जाने पर क्या करें

किडनी स्टोन हो जाने पर क्या करें ?

यदि आपके कमर के निचले हिस्से में दर्द होता है या जब आप पेशाब करते हैं तो आपको दर्द होता है तो पूरी संभावना है कि आपको किडनी स्टोन यानी की पथरी हो चुकी है । इस हालत में आपको शीघ्र ही किसी अच्छे डॉक्टर से मिलना चाहिए और यदि डॉक्टर कहता है कि यह दवाई से ठीक हो सकती है तो नियमित रूप से दवाई का सेवन करें ।

यदि आपकी पथरी की बीमारी विकराल रूप ले चुकी है तो सर्जरी करना ही एकमात्र उपाय बच जाता है । पर अगर आपकी पथरी की अभी शुरुवात है तो आप नीचे बताए गए नुस्खों से अपनी पथरी की समस्या काफी हद तक ठीक कर सकते हैं आइए अब उनके बारे मे जानते हैं । तो अब हम जानेंगे पथरी का इलाज ।

pathri ka ilaj

पथरी का घरेलू इलाज – Pathri ka ilaj

1) मूली से करें पथरी का इलाज

पथरी को गलाने में मूली आपके लिए बहुत काम आ सकती है आपको करना यह है कि मूली के 5 से 6 बीज लेकर एक ग्लास पानी में उसे उबाल दें और जब पानी उबल जाए तो एक चम्मच नींबू का रस मिलाकर कम से कम 7 दिनों तक इसका सेवन करें आपको पथरी में बहुत आराम मिलेगा और आप की पथरी 50% तक कम हो जाएगी । इसलिए pathri ka ilaj करने के लिए आप मूली का इस्तेमाल जरूर करें ।

ये भी पढ़ें – मूली के फायदे, उपयोग और नुकसान

2) कुर्थी की दाल से किडनी स्टोन ट्रीटमेंट

कुर्थी की दाल पथरी को ठीक करने के लिए जानी जाती है ।  कुर्थी की दाल को आप 15 दिनों तक अपने खाने में शामिल करें और दाल की तरह इसका सेवन करें कुछ ही दिनों में आपको असर दिखने लगेगा और आप की पथरी गलने लग जाएगी और आपका दर्द भी कम होने लग जाएगा ।

3) पत्थरचट्टा से होगा पथरी का इलाज

पत्थरचट्टा नाम का एक पौधा होता है जो पथरी को गलाने के लिए सबसे अच्छा माना जाता है और यह नुस्खा पथरी को सिर्फ 3 से 4 दिनों में गला सकती है । आपको बस करना यह है कि पत्थरचट्टा के पौधे के पत्तों का जूस बनाकर रोज शाम को पिए या इसकी चटनी बनाकर खाएं आपको कुछ ही दिनों में लाभ दिखने लगेगा । इसके इस्तेमाल से आप pathri ka ilaj कर सकते है ।

4) नारियल पानी से किडनी स्टोन का इलाज

एक शोध के अनुसार नारियल पानी का इस्तेमाल किडनी स्टोन यानी की पथरी की समस्या को कम करने के लिए किया जा सकता है । पंजाब मेडिकल यूनिवर्सिटी द्वारा किए गए एक शोध में पाया गया कि नारियल पानी में मौजूद इलेक्ट्रोलाइट्स पथरी के आकार को कम कर देते हैं और उसे छोटे टुकड़ों में तोड़ने में मदद करते हैं जिसके कारण धीरे-धीरे वह पथरी मूत्र के मार्ग से बाहर निकलने लगती है और नारियल पानी के प्रभाव से पथरी की समस्या ठीक हो जाती है । दिन में दो से तीन बार नारियल पानी का उपयोग पथरी की समस्या को कम कर सकता है ( Source )

ये भी पढ़ें – नारियल तेल के फायदे

5) ऐस्पैरागस से करें पथरी को ठीक

एक शोध के अनुसार ऐस्पैरागस का इस्तेमाल पथरी के आकार को कम करने के लिए किया जा सकता है । कई पथरी की आयुर्वेदिक दवाओं में ऐस्पैरागस का इस्तेमाल भी किया जाता है । शोध के अनुसार ऐस्पैरागस के मथेनॉलिक अर्क में किडनी के साइज को कम करने का गुण होता है जिसके कारण पथरी का आकार कम हो जाता है और पथरी धीरे-धीरे करके मूत्र के मार्ग से बाहर निकलने लगती है और समय के साथ ऐस्पैरागस के प्रभाव से पथरी ठीक हो जाती है ( Source )

Pathri ka ilaj तो अब आप जान ही चुके है पर चलिए अब आपको बताते की पथरी से बचने के लिए आप कौन से उपाय अपना सकते है ।

इन बातों का रखें ध्यान, नहीं होगी पथरी

इन बातों का रखें ध्यान, नहीं होगी पथरी

1) पानी और तरल पदार्थों का सेवन अधिक मात्रा में करें नमक, ड्राई फ्रूट्स, नॉनवेज, फास्ट फूड, पैकेज्ड फूड आदि का सेवन कम से कम करें क्योंकि आप जो खाएंगे आपका शरीर वैसा ही बनेगा इसलिए घर का शुद्ध खाना खाएं और बाहर का कचरा खाने से बचें ।

2) अपना वजन बढ़ने ना दे क्योंकि जब आपका वजन बढ़ता है तो इसकी वजह से आपका पाचन तंत्र खराब होता है पाचन तंत्र खराब होने की वजह से खाना सही से पचता नहीं और इसका नकारात्मक प्रभाव आपके किडनी पर पड़ता है ।

3) अगर आपको डायबिटीज है तो अपने शुगर लेवल को कंट्रोल में रखने की कोशिश करें क्योंकि उन लोगों को पथरी होने की संभावना ज्यादा होती है जो डायबिटीज के पेशेंट होते हैं ।

ये भी पढ़ें – डायबिटीज के लक्षण, कारण, इलाज और घरेलू उपचार

4) नियमित रूप से व्यायाम करें, व्यायाम करने से आपका शरीर पसीना निकलता रहेगा जिसके साथ कई विषैले केमिकल आपके शरीर से बाहर निकलते रहेंगे और आपको बीमारियां कम होंगी ।

5) अगर आपको पहले भी पथरी रह चुकी है तो विशेष ध्यान रखें क्योंकि जब आपका ऑपरेशन हो जाता है तब भी कुछ छोटे-छोटे पथरी के अंश आपकी किडनी में छूट जाते हैं और यदि आप आगे परहेज नहीं रखते हैं तो वह छोटे छोटे पत्थर के कण बड़े होने लग जाते हैं और आपकी किडनी में फिर से पथरी हो जाती है ।

6) अगर कोई लक्षण प्रकट हो तो तुरंत ही डॉक्टर के पास दिखाएं । देसी नुस्खे असर दिखाने में समय लेंगे और यदि आप की बीमारी बड़ी हो गई तो उसका इलाज करना भी महंगा और मुश्किल पड़ सकता है । इसलिए डॉक्टर से जरूर मिले ।

दोस्तों, उम्मीद करते है कि ” पथरी के लक्षण, कारण, पथरी का इलाज “ आप अच्छी तरह जान चुके होंगे अगर आपके मन में अभी भी कोई सवाल है तो comment box में पूछें हमारी हमारी टीम आपके सवालों का जवाब 24 घंटे के अन्दर दे देगी और अगर आप चाहते है कि हमारे अगले post की notification आप तक पहुंचे तो healthkenuskhe.com को subscribe कर लें, आपका दिन शुभ हो धन्यवाद ।

0 thoughts on “पथरी के लक्षण, कारण और इलाज – Pathri ke lakshan, karan aur ilaj”

  1. By way of introduction, I am Mark Schaefer, and I represent Nutritional Products International. We serve both international and domestic manufacturers who are seeking to gain more distribution within the United States. Your brand recently caught my attention, so I am contacting you today to discuss the possibility of expanding your national distribution reach.We provide expertise in all areas of distribution, and our offerings include the following: Turnkey/One-stop solution, Active accounts with major U.S. distributors and retailers, Our executive team held executive positions with Walmart and Amazon, Our proven sales force has public relations, branding, and marketing all under one roof, We focus on both new and existing product lines, Warehousing and logistics. Our company has a proven history of initiating accounts and placing orders with major distribution outlets. Our history allows us to have intimate and unique relationships with key buyers across the United States, thus giving your brand a fast track to market in a professional manner. Please contact me directly so that we can discuss your brand further. Kind Regards, Mark Schaefer, [email protected], VP of Business Development, Nutritional Products International, 101 Plaza Real S, Ste #224, Boca Raton, FL 33432, Office: 561-544-0719

    Reply

Leave a Comment

close