Makhana ke fayde, upyog aur nuksan – मखाना के फायदे, उपयोग और नुकसान

भारत में मखाना बड़े ही चाव से खाया जाता है । कोई इसे भूनकर खाना पसंद करता है तो कोई फ्राई करके तो कई लोग इसकी खीर बनाकर भी खाना पसंद करते हैं । आज Healthkenuskhe.com के इस लेख में हम जानेंगे makhana ke fayde ( fox nuts benefits in hindi ), उपयोग और मखाना के नुकसान । इसलिए अंत तक इस लेख को जरूर पढ़ें क्योंकि अधूरी जानकारी सेहत के लिए खतरनाक हो सकती है ।

मखाना के सेवन से डायबिटीज, हाइपरटेंशन जैसी समस्याएं दूर होती है । अलग-अलग जगहों पर इसका अलग-अलग प्रकार से सेवन किया जाता है पर मखाना सिर्फ स्वाद में ही नहीं बल्कि मखाना सेहत के लिए भी बहुत ही फायदेमंद होता है । तो चलिए अब जानते है makhane khane ke fayde

मखाना के पौष्टिक तत्व – nutrients in makhana in hindi

पोषक तत्व यूनिट मात्रा प्रति 100 ग्राम
पानी g 14.16
एनर्जी Kcal 332
प्रोटीन g 15.41
टोटल लिपिड (फैट) g 1.97
कार्बोहाइड्रेट g 64.47
मिनरल्स
कैल्शियम mg 163
आयरन mg 3.53
मैग्नीशियम mg 210
फोस्फोरस mg 626
सोडियम mg 5
जिंक mg 1.05
विटामिन
थियामिन mg 0.640
राइबोफ्लेविन mg 0.150
नियासिन mg 1.600
विटामिन बी-6 mg 0.629
फोलेट µg 104
विटामिन ए (आरएई) µg 3
विटामिन ए (आईयू) IU 50
लिपिड्स
फैटी एसिड (सैचुरेटेड) g 0.330
फैटी एसिड (मोनोसैचुरेटेड) g 0.388
फैटी एसिड (पॉलीसैचुरेटेड) g 1.166

मखाना के फायदे - fox nuts benefits in hindi

मखाना के फायदे – makhana ke fayde

1) डायबिटीज – मखाना डायबिटीज के मरीजों के लिए बहुत ही फायदेमंद हो सकता है । एक शोध में यह बात सामने आई की मखाना में पाए जाने वाले स्टार्च में हाइपोग्लाइसेमिक गुण पाए जाते हैं जिसके कारण मखाना का नियमित सेवन करने से ब्लड शुगर को नियंत्रण में रखने और शरीर में इंसुलिन की मात्रा को बढ़ाने में मदद करता है इसलिए अगर आप एक डायबिटीज के मरीज हैं और इंसुलिन के इंजेक्शन लेते हैं तो आपको मखाना का सेवन अपनी डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए ।

ये भी पढ़ें – डायबिटीज के लक्षण और इलाज

2) हाइपरटेंशन – हाइपरटेंशन जिसे हाई ब्लड प्रेशर भी कहा जाता है, आज के जनरेशन में जहां टेंशन लोगों के जीवन का एक बड़ा हिस्सा बन चुकी है इस वजह से भी हाइपरटेंशन एक बहुत आम बात हो चुकी है । एक शोध में यह बात सामने आई कि मखाना में पाया जाने वाला अल्कलॉइड हाइपरटेंशन को कम करने में मदद करता है । अगर हाइपरटेंशन के मरीज नियमित रूप से मखाना का सेवन करें तो उनका बीपी कंट्रोल में रहता है ।

ये भी पढ़ें – हाई ब्लड प्रेशर का उपचार

3) वज़न करे कम – अगर आप भी ज्यादा मेहनत किए बिना अपना कुछ वजन घटाना चाहते हैं और अपने पेट की चर्बी कम करना चाहते हैं तो मखाना आपकी मदद कर सकता है । एक शोध में यह बात सामने आई कि मखाना में पाया जाने वाला इथेनॉल बढ़ते वजन को कम करने में और अतिरिक्त चर्बी को घटाने में मदद करता है । अगर आप एक महिला हैं और अपना वजन कम करना चाह रही है तो आपको मखाना का सेवन रोज करना चाहिए ।

ये भी पढ़ें – मोटापा बढ़ने के कारण और इसका इलाज

4) एन्टी-एजिंग – मखाना एक बहुत ही बेहतरीन एंटी एजिंग तत्व माना जाता है । विशेषज्ञों का कहना है कि नियमित रूप से मखाना आपकी त्वचा को जवान बनाए रखने में मदद करता है । खाने में विटामिन-C और एंटीऑक्सीडेंट की समृद्ध मात्रा होने के कारण यह एक एन्टी-एजिंग के रूप में काम करता है और आपकी बढ़ती उम्र को कम करने में आपकी मदद करता है खासकर यह आपकी त्वचा की झुर्रियों को कम करने में काफी मददगार हो सकता है ।

5) प्रोटीन का स्रोत – मखाना में जो प्रोटीन पाया जाता है वह एक बहुत ही हाई क्वालिटी का प्रोटीन होता है जिससे पेट के लिए पचा पाना काफी आसान होता है । अगर आप मखाना का सेवन नियमित रूप से करते हैं तो आपके शरीर में प्रोटीन की कमी नहीं होती और आपका शरीर मजबूत बनता है और अगर आप पतले दुबले हैं तो आपका वजन बढ़ाने में भी यह आपकी मदद करता है ।

ये भी पढ़ें – वजन बढ़ान के 5 तरीके

6) कब्ज़ – मखाना में समृद्ध मात्रा में फाइबर पाया जाता है और विज्ञान के अनुसार फाइबर पेट को साफ करने में एक बहुत ही अहम तत्व माना जाता है । अगर आपके भोजन में फाइबर की प्रचुर मात्रा है तो आपको कब्ज की शिकायत नहीं हो सकती मखाना में फाइबर की प्रचुर मात्रा होने के कारण ऐसा कहा जा सकता है कि कब्ज की शिकायत दूर हो सकती है ।

ये भी पढ़ें – कब्ज के लक्षण, कारण और इलाज

7) डायरिया – मखाना डायरिया में बहुत ही फायदेमंद होता है क्योंकि इसमें एन्टीडायरिया गुण होते हैं। अगर आपको कभी भी लूज़ मोशन की समस्या हो तो आप दिन में 2 से 3 बार मखाना का सेवन करें आपको काफी फायदा होगा ।

8) मसूड़ों के लिए – मखाना calcium, Iron, Potassium और Vitamin-A से समृद्ध होता है और यह सारे तत्व मसूड़ों की सेहद के लिए बहुत ज़रूरी हैं । यही नहीं मखाना में एंटीबैक्टीरियल गुण भी होते हैं जो दांतों को सड़ने से बचाने में मदद करते है।

9) अनिद्रा – जिस प्रकार से लोगों की ज़िंदगी डिजिटल होती चली जा रही है उस प्रकार लोगों की नींद में भी कमी आती जा रही है जो एक बहुत ही बड़ी समस्या है। अनिद्रा से छुटकारा पाने में मखाना आपकी मदद कर सकता है।  इसके लिए आप मखाना को गर्म दूध में डालकर छोड़ दें फिर उसे पी जाएं और मखाना खा जाएं ये आपकी नींद की quality को बढ़ा देगा ।

ये भी पढ़ें – नींद न आने के कारण और अनिद्रा के आयुर्वेदिक उपचार

10) हार्ट के लिए – मखाना शरीर के cholestrol को नियंत्रण में रखता है और यह ब्लड प्रेशर को भी नियंत्रित करता है जिसके कारण यह हार्ट को स्वस्थ रखने में मदद करता है । blood clotting और heart blockages को ठीक करने में भी यह काफी असरदार माना जाता है।  एक शोध में यह बात सिद्ध हो चुकी है कि मखाना हार्ट के लिए बहुत ही लाभकारी होता है और हार्ट अटैक के खतरे को कम कर देता है।

ये भी पढ़ें – हार्ट अटैक के लक्षण, कारण और इससे बचने के उपाय

11) त्वचा के लिए – मखाना Vitamin-C और Antioxidants से समृद्ध होता है जिसके कारण तह त्वचा के लिए बहुत ही फायदेमंद माना जाता है । अगर आपकी त्वचा की चमक कम हो गई है या झुर्रियाँ पड़ने लगी हैं तो आपको मखाना का सेवन जरूर करना चाहिए क्योंकि ये आपकी त्वचा को और भी जवान बनाने में मदद करता है और यह बात एक study में भी सिद्ध हो चुकी है कमल के दाने जिससे मखाना बनाया जाता है वह त्वचा के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है ।

12) बालों के लिए – विटामिन सी बालों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है साथ ही मखाना में हाई quality प्रोटीन भी पाया जाता है आपकी जानकारी के लिए आपको बता दें कि आपके बाल प्रोटीन से बने होते हैं यानी कि जब आपके शरीर में हाई quality प्रोटीन मौजूद होता है तो आपके बाल भी स्वस्थ रहते हैं इसलिए अगर आप भी अपने बालों को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो आपको मखाना का सेवन अवश्य करना चाहिए ।

ये भी पढ़ें – बाल झड़ने से रोकने के उपाय

uses of makhana in hindi

मखाना का उपयोग – uses of makhana in hindi

1) खीर में डालकर – भारत में खीर नहीं खाने वाला कोई भी व्यक्ति नहीं होगा । भारत में कई प्रकार से खीर बनाए जाते हैं और बड़े ही चाव से खाए जाते हैं और अगर इसमें मखाना डाल दिया जाए तो इसका स्वाद और भी बढ़ जाता है और इसकी पौष्टिकता भी बढ़ जाती है इसलिए अगली बार से जब भी आप खीर बनाएं उसमें मखाना अवश्य डालें ।

2) सूखे मेवे के साथ – भारत में कई जगहों पर सूखे मेवे के साथ या फिर मोदक बनाने के लिए भी मखाना का इस्तेमाल किया जाता है ।

3) भूनकर – आप चाहे तो मखाना को भूलकर भी खा सकते हैं भूनकर खाने से इसके फायदे बढ़ जाते हैं । इसे भूकन खाने के लिए अब एक बर्तन में हल्का तेल या घी डालकर मखाना को भून लें और अच्छी तरह भुन जाने के बाद इसका सेवन करें ।

4) फ्राई करके – आप चाहें तो तेल में फ्राई करके भी मखाना का सेवन कर सकते हैं । चनचुर या नमकीन में फ्राई किया हुआ मखाना ही डाला जाता है ।

5) पुलाव में डालकर – अगर आप पुलाव खाने के शौकीन हैं तो आप पुलाव में भी मखाना डाला सकते हैं इससे पुलाव की गुणवत्ता और भी बढ़ जाती है ।

6) मटर पनीर की सब्ज़ी में डालकर – मटर पनीर सिर्फ भारत मे ही नहीं बल्कि विदेशों में भी मशहूर है । मटर पनीर में मखाना भी डाला जाता है जिससे इसका स्वाद और पौष्टिकता दोनों बढ़ती है ।

side effects of makhana in hindi

मखाना के नुकसान – side effects of makhana in hindi

इस बात में कोई भी दो राय नहीं है कि मखाना एक बहुत ही गुणकारी खाद्य पदार्थ और ऐसा कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण अभी तक नहीं मिला जिससे हम यह कह सके कि मखाना खाने से आपको नुकसान हो सकते हैं पर ऐसा कहा जाता है कि किसी भी चीज का अत्यधिक सेवन नुकसानदायक होता है । तो आइए मखाना के कुछ नुकसान के बारे में जान लेते हैं ।

1) अगर आप अत्यधिक मखाना का सेवन करते हैं तो आपको पेट में गैस, अपच, एसिडिटी जैसी समस्या हो सकती है ।

2) उन लोगों को मखाना के अत्यधिक सेवन से बचना चाहिए जो लोग डायबिटीज के मरीज है और इंसुलिन के इंजेक्शन लेते हैं ।

3) जिन लोगों को मखाना से एलर्जी होती है उन लोगों को भी मत खाना नहीं खाना चाहिए ।

4) मखाना में स्टेरॉइड भी पाया जाता है इसलिए इसका अधिक सेवन किसी प्रकार का साइड इफेक्ट भी दे सकता है इसलिए हमेशा मखाना का उपयोग सीमित मात्रा में ही करना चाहिए ।

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको मखाना से संबंधित पूरी जानकारी मिल चुकी होगी । अगर अभी भी आपका कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में पूछे हमारी टीम आपके सवालों का जवाब देने की पूरी कोशिश करेगी । ऐसे ही स्वास्थ्य से जुड़ी जरूरी जानकारियां पाने के लिए healthkenuskhe.com को subscribe कर ले, धन्यवाद ।

Leave a Comment