Hari mirch ke fayde, upyog aur nuksan – हरी मिर्च के 15 फायदे, उपयोग और नुकसान

हरी मिर्च क्या है – what is hari mirch in hindi ?

भारत में ऐसा कोई भी व्यक्ति नहीं होगा जो हरी मिर्च को ना पहचानता हो । भारत में हरी मिर्च के बिना किसी भी व्यंजन को बनाने के बारे में सोचा भी नहीं जा सकता । हरी मिर्च को ना सिर्फ इसके तीखेपन के लिए जाना जाता है बल्कि हरी मिर्च में कई औषधीय गुण भी होते हैं जो अनेकों रूप से आपके शरीर को फायदा पहुंचाते हैं । healthkenuskhe के इस लेख में हम जानेंगे hari mirch ke fayde, उपयोग और नुकसान | इसलिए अंत तक जरूर पढ़ें क्योंकि अधूरी जानकारी सेहत के लिए अच्छी नहीं होती ।

hari mirch ke fayde

हरी मिर्च के फायदे – hari mirch ke fayde

1) पाचनतंत्र – हरी मिर्च पाचनतंत्र को काफी तेज करती है क्योंकि इसमें Vitamin-C, antioxidants और fiber मौजूद होता है । यदि आपका digestion काफी सुस्त है या आपका खाना जल्दी नहीं पचता है तो आप अपने खाने के साथ हरी मिर्च खाना शुरू करें आपके digestion में काफी सुधार होने लगेगा और आपका overall पाचन सही हो जाएगा ।

2) आँख – हरी मिर्च Vitamin-A से समृद्ध होती है और वैज्ञानिकों के अनुसार Vitamin-A जिस चीज में भी समृद्ध मात्रा में पाया जाए वह चीज आंखों के लिए बहुत ही फायदेमंद होती है । यदि आप हरी मिर्च का सेवन रोज करते हैं तो यह आपकी आंखों को पोषण प्रदान करता है और आपकी आंखों की रोशनी को बरकरार रखने में आपकी सहायता करता है ।

ये भी पढ़ें – 3 महीने में आंखों की रोशनी बढ़ाने के तरीके

3) त्वचा – हरी मिर्च Vitamin-C और antioxidants से समृद्ध होती है जिसके कारण यह आपकी त्वचा के लिए बहुत ही फायदेमंद होती है आपने देखा होगा कि जो लोग हरी मिर्च का सेवन करते हैं उन्हें त्वचा से संबंधित कम ही समस्याएं होती हैं और उन्हें कील-मुंहासे भी कम होते हैं । अगर आपको pimples की problem है तो आप हरी मिर्च खाना शुरू करें आपकी pimples की problem ठीक होने लगेगी ।

ये भी पढ़ें – पिंपल्स को दूर करने के 4 अद्भुत तरीके

4) Diabetes – जिन लोगों को Type-2 Diabetes है उन लोगों को हरी मिर्च का सेवन अवश्य करना चाहिए क्योंकि हरी मिर्च में capsysin नामक एक तत्व होता है जो इसे एक anti-diabetic गुण प्रदान करता है । हरी मिर्च lipid ketabolism को बढ़ा देता है जिसके कारण Type-2 Diabetes नियंत्रण में रहता है ।

ये भी पढ़ें – डायबिटीज के लक्षण और इलाज

5) उच्च रक्तचाप – उच्च रक्तचाप यानी कि जिन लोगों को Hypertension की समस्या है उन लोगों के लिए भी हरी मिर्च बहुत ही फायदेमंद होती है इसमें मौजूद Sodium और Potassium, blood density को नियंत्रण में रखता है और यह Cholestrol को भी नियंत्रण में रखता है जिसके कारण ब्लड प्रेशर बढ़ता नहीं और नियंत्रण में रहता है ।

ये भी पढ़ें – हाई ब्लड प्रेशर का उपचार

6) Heart attack – हरी मिर्च में जो तीखापन होता है वह खून में मौजूद bad cholestrol को कम करने में मदद करता है और अगर आपके खून में cholestrol की मात्रा नियंत्रण में रहेगी तो आपको Heart attack होने की संभावना बहुत कम हो जाएगी । यही नहीं हरी मिर्च के सेवन से Plataletes clotting होने की संभावना भी कम हो जाती है ।

ये भी पढ़ें – हार्ट अटैक के लक्षण, कारण और इससे बचने के उपाय

7) Immunity – Vitamin-C, Vitamin-A और antioxidants होने के कारण यह Immunity को boost कर देती है । साथ हि हरी मिर्च के तीखेपन के प्रभाव से पेट के कीड़े भी मर जाते हैं अथवा पेट में होने वाली infections को भी यह ठीक करने में मदद करता है । यदि आप नियमित रूप से हरी मिर्च का सेवन अपने खाने में करते हैं तो यह आपकी Immune system को मजबूत बनाए रखेगा ।

8) वजन नियंत्रण – आज के समय में जिस प्रकार का खानपान हो चला है लोक मोटापे का शिकार हो रहे हैं पर यदि आप हरी मिर्च का सेवन करते हैं तो यह आपके वजन को नियंत्रण में रखने में मदद करता है क्योंकि इसमें Vitamin-C, antioxidants और capsysin मौजूद होता है जो anti-obesity की तरह काम करता है और आपके वजन को नियंत्रण में रखता है ।

9) infections – हरी मिर्च antibacterial मानी जाती है जो शरीर में होने वाले infections को कम करने में मदद करती है । यदि आप रोज हरी मिर्च का सेवन करते हैं तो आपको bacterial infection होने की संभावनाएं कम हो जाती है । साथ ही यह आपके रक्त का शुद्धिकरण करने में भी सहायता करता है ।

10) अनिद्रा ( Insomnia ) जिन लोगों को अनिद्रा की समस्या होती है उन लोगों को हरी मिर्च का सेवन अवश्य करना चाहिए । हरी मिर्च में कुछ ऐसे तत्व होते हैं जो नींद को बढ़ाते हैं और अनिद्रा जैसी समस्या को ठीक करते हैं । हालांकि रात में आपको हरी मिर्च का सेवन नहीं करना है क्योंकि हरी मिर्च के सेवन करने से आपका दिमाग फिर से active हो जाएगा और आपको नींद नहीं आएगी इसलिए हमेशा सुबह या दोपहर में हरी मिर्च का सेवन करना चाहिए ।

11) तनाव ( stress ) – आज के समय में लोगों में तनाव काफी बढ़ रहा है और ज्यादा तनाव में रहना आपके health के लिए अच्छा नहीं होता । यदि आप हरी मिर्च खाते हैं तो यह आपके तनाव को कम करने में आपकी सहायता करती है । दरअसल हरी मिर्च में Vitamin-B की समृद्ध मात्रा होती है जो शरीर को relax कर देती है और stress को कम करती है ।

ये भी पढ़ें – तनाव कैसे दूर करें

12) दिमाग – हरी मिर्च में Vitamin-B6, B12 और Folate की प्रचुर मात्रा होती है जो दिमाग की कार्यप्रणाली को तेज करती है । हरी मिर्च के सेवन से memory power भी बढ़ती है । हरी मिर्च के तीखेपन से brain को झटका भी लगता है जिसके कारण यदि आप सुस्त महसूस कर रहे हैं तो आपका दिमाग तुरंत activate हो जाता है । अगर आप पढ़ाई करना चाहते हैं और आपको नींद आ रही है तो आप हरी मिर्च थोड़ी सी खा लीजिये आपका दिमाग फिर से active हो जाएगा और आप आराम से पढ़ाई कर पाएंगे ।

13) तुतलाना – वह लोग जिन्हें तुतलाने की समस्या है जिसे अंग्रेजी में Stammering भी कहा जाता है उन लोगों को हरी मिर्च का सेवन रोज करना चाहिए । वैज्ञानिकों के द्वारा यह बात सामने आई थी । हरी मिर्च के सेवन से brain का वह हिस्सा active होने लगता है जिसके कारण हमें बोलने की शक्ति मिलती है । यानी कि यदि लंबे समय तक हरी मिर्च का सेवन किया जाए तो हरी मिर्च से तुतलाने जैसी समस्या भी ठीक हो सकती है ।

14) हड्डीयाँ – हरी मिर्च आपकी हड्डियों और आपके दांतों के स्वास्थ्य के लिए बहुत ही बेहतरीन होता है । हरी मिर्च में calcium की समृद्ध मात्रा होती है और इसमें कुछ ऐसे तत्व होते हैं जो calcium को आपके शरीर में absorb करवाने में सहायता करते हैं । यदि आप हरी मिर्च का सेवन करते हैं तो आपकी हड्डियां और आपके दांत स्वस्थ बने रहते हैं ।

15) कैंसर – हरी मिर्च antioxidants से समृद्ध होती है साथ ही इसमें Vitamin-C की भी भरपूर मात्रा होती है जो हरी मिर्च को एक anti-cancer गुण प्रदान करता है । कई studies में यह बात देखी गई है कि हरी मिर्च के सेवन से शरीर में मौजूद होने वाले free radicles नष्ट होते हैं जिसके कारण Cancer होने की संभावना कम हो जाती है ।

ये भी पढ़ें – कैंसर के लक्षण और इलाज

अब तक आप hari mirch ke fayde जान ही गए होंगे । तो चलिए अब आपको बताते है uses of green chilli in hindi । इसे जानने के बाद हम आपको बताएंगे हरी मिर्च के नुकसान ।

uses of green chilli in hindi

हरी मिर्च के उपयोग – uses of green chilli in hindi

1) सब्ज़ियों में डालकर – हरी मिर्च का सेवन आप सब्जियों में डालकर कर सकते हैं इसके लिए आप मिर्च को बीच से काट लें और इसे सब्जी में डाल दें इसका तीखापन खुद ब खुद स्वाद में आ जाएगा ।

2) सलाद में डालकर – सलाद के रूप में भी हरी मिर्च का सेवन किया जा सकता है इसके लिए आप खीरे, गाजर और टमाटर के सलाद में हरी मिर्च को काटकर सलाद में मिक्स कर दें और इस सलाद को खाएं।

3) तेल में फ्राई करके – हरी मिर्च को तेल में फ्राई करके भी खाया जा सकता है इसके लिए आप हरी मिर्च के बीच में चीरा लगा दे अब उसमें थोड़ा सेंधा नमक डालें और इसे गर्म तेल में फ्राई कर दें ।

green chilli side effects in hindi

हरी मिर्च के नुकसान – green chilli side effects in hindi

हरी मिर्च एक बहुत ही गुणकारी खाद्य पदार्थ है इसमें कोई भी शक नहीं है पर किसी भी चीज का यदि जरूरत से ज्यादा प्रयोग होगा तो उसके नुकसान भी होंगे तो आइए हरी मिर्च के नुकसान के बारे में भी जान लेते हैं ।

1) अगर आपको Stomach ulcer की समस्या है तो आपको हरी मिर्च का सेवन नहीं करना चाहिए वरना यह आपके पेट दर्द या पेट मे जलन का कारण बन सकता है ।

2) बवासीर ( Piles ) के मरीजों को हरी मिर्च का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि जब आप हरी मिर्च का ज्यादा सेवन करेंगे और मल त्याग करेंगे तो उस समय बहुत ज्यादा जलन होगी ।

3) हरी मिर्च का सेवन फायदेमंद है पर कभी भी सूखी मिर्च का या लाल मिर्च के पाउडर का सेवन नहीं करना चाहिए लाल मिर्च के पाउडर के सेवन से कई प्रकार के नुकसान हो सकते हैं ।

Leave a Comment