Gud khane ke fayde, गुड़ खाने के 15 चमत्कारी फायदे – benefits of jaggery

गुड़ जिसे प्रकृति की मिठाई के तौर पर जाना जाता है । गुड़ को गन्ने के रस से बनाया जाता है पर गुड़ में चीनी के मुकाबले ज्यादा पोषक तत्व होते है और कई मायनों में इसके कई फ़ायदे शरीर को होते हैं । आपको जानकर शायद हैरानी होगी पर दुनिया का 70% गुड़ भारत मे ही बनाया जाता है । अच्छी गुणवत्ता के गुड़ में आम तौर पर 70% से अधिक सुक्रोज होते हैं। इसमें खनिज के रूप में 5% के साथ 10% से कम पृथक ग्लूकोज और फ्रुक्टोज भी होते हैं । आज हम आपको गुड़ खाने के 15 चमत्कारी फ़ायदे ( gud khane ke fayde ) बताने वाला हूँ |

100 ग्राम (आधा कप) गुड़ में क्या क्या पाया जाता है

कैलोरी: 383

सुक्रोज: 65-85 ग्राम

फ्रुक्टोज और ग्लूकोज: 10-15 ग्राम

प्रोटीन: 0.4 ग्राम

वसा: 0.1 ग्राम

आयरन: 11 मिलीग्राम, या आरडीआई का 61%

मैग्नीशियम: 70-90 मिलीग्राम, या RDI का लगभग 20%

पोटेशियम: 1050 मिलीग्राम, या आरडीआई का 30%

मैंगनीज: 0.2–0.5 मिलीग्राम, या आरडीआई का 10-20%

कैल्शियम : 950 मिलीग्राम या RDI का 24%

gud khane ke fayde

गुड़ खाने के 15 चमत्कारी फायदे – gud khane ke fayde

1) पाचनतंत्र को करे ठीक – गुड़ फाइबर एवं औषधीय गुणों से समृद्ध होता है जो पाचनतंत्र को ठीक करता है। डायरिया में भी गुड़ लाभकारी होता है । ये आपको पेट के गैस की शिकायत रहती है तो आप सुबह खाली पेट मे गुड़ का सेवन करें । गुड़ के सेवन से आपका पेट स्वस्थ रहता है और पेट सम्बंधित कई रोग दूर हो जाते हैं । पढ़ें – पेट साफ करने के तरीके |

2) सर्दी-ज़ुकाम करे ठीक – सर्दी-जुकाम में भी गुड़ बहुत ही लाभकारी होता है । अगर आपको सर्दी या खांसी है तो आपको नियमित रूप से गुड़ का सेवन करना चाहिए । आप चाहे तो ठंड के दिनों में गुड़ और तिल के लड्ड़ू भी कहा सकते हैं, यह आपके शरीर के तापमान को सर्दियों में भी गर्म रखेगा जिसके कारण आपका सर्दी-जुकाम ठीक हो जाएगा ( gud khane ke fayde )

3) शरीर के टोक्सिन को बाहर करे – गुड़ शरीर के टोक्सिन को भी बाहर निकालने में बहुत फायदेमंद होता है । यह आपके शरीर के अंदर जमे टोक्सिन और विषैले तत्वों को बाहर निकालने में सहायता करता है । टोक्सिन के बाहर निकल जाने के कारण आप कई बीमारियों से दूर रहते हैं और शरीर भी हल्का लगता है ।

4) शरीर को प्रदूषण से बचाए – अगर आप प्रदूषण से भरे इलाके में रहते हैं जैसी की दिल्ली तो आपको सांस से जुड़ी बीमारी होने की संभावना 50% तक बढ़ जाती है, प्रदूषण वाले इलाके में रहने के कारण आपको अस्थमा, टीबी जैसी खतरनाक बीमारियाँ हो सकती हैं पर अगर आप नियमित रूप से गुड़ का सेवन करते हैं तो यह आपके शरीर के अंदर जाने वाले पर ज़्यादातर प्रदूषण के शरीर पर काम पड़ता है ( gud khane ke fayde )

5) प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये – गुड़ में एंटीऑक्सीडेंट और मैग्नीशियम पाया जाता है जो शरीर की इम्युनिटी अर्थात प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है । प्रतिरोधक क्षमता बढ़ने के कारण शरीर अंदर से मजबूत होता है और छोटे-मोटे बैक्टीरिया और वायरस यदि शरीर के अंदर चली भी जाए तो शरीर की प्रतिरोधक क्षमता उन बैक्टीरिया और वायरस को खत्म कर देती है और सर्दी जुकाम और बुखार जैसी छोटी मोटी बिमारियाँ आपके शरीर को नहीं होती |

6) खून बढ़ाए – गुड़ में आयरन की भी भरपूर मात्रा पाई जाती है । आयरन शरीर में जाकर खून के उत्पादन को बढ़ाने में मदद करता है । शरीर में आयरन की कमी हो जाती है तो खून की भी कमी होने लग जाती है, जिसके लिए डॉक्टर आयरन के टेबलेट देते हैं । यदि आप गुड़ का नियमित सेवन करते हैं तो आपके शरीर में आयरन की कमी नहीं होती और जिसके कारण सही मात्रा में आपके शरीर में खून बनता रहता है और हिमोग्लोबिन भी कंट्रोल में रहता है ।

7) हड्डीयाँ करे मज़बूत – गुड़ कैल्शियम से समृद्ध होता है, गुड़ के सेवन से शरीर में कैल्शियम की कमी दूर होती है । कैल्शियम वह तत्व होता है जिससे हमारे शरीर की हड्डियां बनी होती है और यदि शरीर में कैल्शियम की कमी हो जाए तो हड्डियां तो कमजोर होती ही है, साथ ही कई और भी समस्याएं सामने आने लग जाती है, जैसे कि जोड़ों का दर्द, दांत में झनझनाहट, गठिया आदि ( gud khane ke fayde )। गुड़ के सेवन से शरीर में कैल्शियम की कमी पूरी होती है जिसके कारण हड्डियां मजबूत होती है साथ ही आपके दांत भी मजबूत बनते हैं ।

8) ब्लड प्रेशर करे कंट्रोल – जिन लोगों को हाई ब्लड प्रेशर या लो ब्लड प्रेशर की समस्या होती है, उन लोगों को गुड़ का सेवन अवश्य करना चाहिए । गुड़ में कुछ ऐसे औषधीय तत्व पाए जाते हैं जो खून में मिलने के बाद ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करते हैं । यदि आपका ब्लड प्रेशर ज्यादा है या कम है तो वह कंट्रोल में आ जाता है और जितना ब्लड प्रेशर होना चाहिए उतना हो जाता है । गुड़ के सेवन से आपका मूड ठीक रहता है जिसके कारण आपको गुस्सा भी कमाता है और आपका मिजाज भी खुश रहता है ।

9) दिमाग के लिए फ़ायदेमंद – गुड़ दिमाग के लिए भी बहुत ही फायदेमंद होता है यह आपके दिमाग को तेज करता है क्योंकि इसमें फ्रुक्टोज़ पाया जाता है और दिमाग फ्रुक्टोज़ पर ही काम करता है और गुड़ फ्रुक्टोज़ से समृद्ध होता है । गुड़ दिमाग की योग्यता को तो बढ़ाता ही है साथ ही सोचने की क्षमता को बढ़ा देता है और टेंशन को कम करने में भी सहायता करता है ( jaggery benefits in hindi ) |

10) आँखों के लिए फ़ायदेमंद – गुड़ आंखों के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है यह आंखों को पोषण प्रदान करता है जो व्यक्ति गुड़ का सेवन निरंतर करता है उनकी आंखों में संक्रमण या आंखें कमजोर नहीं होती क्योंकि गुड़ विटामिन ए से भी समृद्ध होता है जो आंखों की रोशनी को बनाए रखने में सहायता करता है । ऐसे बढ़ाएं आँखों की रोशनी |

11) शरीर को रखे एक्टिव – गुड़ में पोटेशियम और एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा होती है जो शरीर को एक्टिव रखने में मदद करता है । साथ ही इसमें कुछ ऐसे प्राकृतिक तत्व भी होते हैं जो आपके स्टैमिना एवं जोश को जगाने में सहायता करते हैं ( gud khane ke fayde ) । जो व्यक्ति गुड़ का सेवन निरंतर करता है उन्हें पौरुषता से जुड़ी समस्याएं कम ही होती है । गुड़ के सेवन से यौन शक्ति में वृद्धि होती है साथ ही स्पर्म क्वालिटी में भी सुधार होता है ।

12) त्वचा को रखे स्वस्थ और जवान – त्वचा के लिए भी गुड़ बहुत ही लाभकारी होता है । कील-मुहासे से लेकर 70% त्वचा से संबंधित रोगों में गुड़ फायदेमंद होता है क्योंकि गुड़ रक्त को साफ करता है एवं रक्त की गुणवत्ता को बढ़ाता है जिसके कारण कील-मुहासे और चेहरे के दाग-धब्बे को ठीक करता है । रक्त की गुणवत्ता बढ़ जाने से चेहरे में निखार और चमक लाता है । गुड़ आपकी त्वचा में कसावट लाता है और तवचा को जवान बनाने में मदद करता है ।

13) पीरियड्स में भी फ़ायदेमंद – पीरियड्स में गुड़ महिलाओं के लिए अमृत की तरह काम करता है । गुड़ रक्त को बढ़ाता है और हीमोग्लोबिन की के स्तर को भी बढ़ाता है जिसके कारण रक्त का स्राव भी कंट्रोल में रहता है और शरीर मे होने वाले दर्द को भी कम करता है ( gud khane ke fayde ) । यदि पीरियड्स के दौरान आपके हाथ-पाँव बहुत खिंचते हैं तो आप खाने के साथ 50 ग्राम गुड़ का सेवन करें आपको बहुत ही फ़ायदा होगा ।

14) अस्थमा में लाभकारी – अस्थमा एक बहुत ही खतरनाक बीमारी है जिसे ठीक करना आसान नहीं है । विज्ञान के पास ऐसा कोई इलाज नहीं है जिससे अस्थमा को जड़ से ठीक किया जा सके पर आयुर्वेद में इसके 2 इलाज बताए गए हैं । आयुर्वेद में 2 ऐसी चीज़ों के बारे में वर्णन है जो अस्थमा को जड़ से खत्म करने की ताकत रखता है और वो 2 चीज़ें हैं आंवला और गुड़ । अगर आंवला के फायदों के बारे में जानना चाहते हैं तो यहां क्लिक करें ( jaggery benefits in hindi )

15) जोड़ों के दर्द में आराम – 50 की उम्र पार करने के बाद ज़्यादातर लोगों के घुटनों में और जोड़ों में दर्द शुरू हो जाता है और इसकी वजह होती है कैल्शियम और पोटैशियम की कमी और ये दोनों ही तत्व गुड़ में प्रचुर मात्रा में भरे होते हैं और जो व्यक्ति गुड़ का सेवन हमेशा करता है उसे घुटने से जुड़ी समस्या काम होती है और हड्डियाँ भी लंबे समय तक मज़बूत बनी रहती हैं ।

कौन सा गुड़ खाना चाहिए

कौन सा गुड़ खाना चाहिए

गुड़ मुख्यतः 2 चीज़ों से बनाए जाते हैं, गन्ने के रस से और खजूर से बात करें तो दोनों ही स्वास्थ्य के लिए अत्यधिक लाभदायक होते हैं और आप खजूर एवं गन्ने के रस दोनों में से किसी भी गुड़ का सेवन कर सकते हैं, यह दोनों ही गुड़ आपको समान मात्रा में फायदा पहुंचाएंगे ( gud khane ke fayde milenge ) पर एक बात का ध्यान अवश्य रखें कि जो गुड़ ज्यादा सुनहरा हो उस गुण को ना खरीदें क्योंकि उस गुड़ में ज्यादा सोडा मिला हुआ रहता है ।

गुड़ खाने का सही तरीका

गुड़ खाने का सही तरीका

जिस गुड़ का रंग थोड़ा काला हो या सांवला हो वही गुड़ असलियत में शुद्ध गुड़ होता है और आपके लिए ज्यादा फायदेमंद होता है । गुड़ का सेवन आप किसी भी तरह कर सकते हैं आप चाहे तो गुड़ को दूध में मिलाकर भी पी सकते हैं या गुड़ को मिठाई की तरह खा सकते है । यह हर रूप में आपके शरीर के लिए फायदेमंद होती है ।

Leave a Comment