Bhindi ke fayde aur nuksan – भिंडी के 10 फायदे और नुकसान

भिंडी जिसे अंग्रेजी में लेडी फिंगर भी कहा जाता है । भिंडी एक बहुत ही आम सब्जी है जिसका इस्तेमाल हर घर में होता है । भारत मे भिंडी की सब्जी और भिंडी का भुजिया बहुत ही चाव से लोग खाते हैं । भिंडी की सबसे खास बात यह है कि इसमें फाइबर की प्रचुर मात्रा होती है जो पाचन तंत्र को मजबूत करने में एवं कब्ज़ को ठीक करने में बहुत सहायता करती है । भिंडी को प्राकृतिक झाड़ू भी कहा जाता है जो यदि आपके पेट में जाए तो आपके पेट के कचरे को साफ करने में मदद करती है । भिंडी के कई फायदे होते है ( bhindi ke fayde ) |

भिंडी क्यों खाना चाहिए ?

भिंडी में कार्बोहाइड्रेट, एंटीऑक्सीडेंट, प्रोटीन एवं फाइबर जैसे बहुत ही अहम और पौष्टिक तत्व होते हैं। भिंडी को यदि कोई चीज सबसे ज्यादा खास बनाती है तो वह है इसका फाइबर जो भिंडी के औषधीय गुणों को और भी ज्यादा बढ़ा देता है । भिंडी का सेवन करना आपको पाचनतंत्र से लेकर आपके पूरे शरीर को फायदा पहुंचाती है तो आइए Healthkenuskhe इस लेख में हम जानेंगे जानते हैं भिंडी के 10 फायदे ( bhindi ke fayde )

bhindi ke fayde

भिंडी के फायदे ( bhindi ke fayde ) – 10 benefits of bhindi

1) पाचनतंत्र – भिंडी फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट एवं विटामिन-C से भरपूर होता है जिसके कारण भिंडी पाचनतंत्र को मजबूत करता है एवं पाचन क्रिया को बढ़ाने में सहायता करता है ( bhindi ke fayde ) । यदि आप सप्ताह में 2 से 3 बार भी भिंडी का सेवन किसी रूप में करते हैं तो आपका पाचन तंत्र मजबूत होता है और आप जो भी खाते हैं वह आसानी से पच जाता है एवं आपके शरीर को अंग भी लगता है ।

2) कॉन्स्टिपेशन – जिन लोगों को कॉन्स्टिपेशन यानी की कब्ज की शिकायत है उन लोगों को भिंडी का सेवन अवश्य करना चाहिए । दरअसल भिंडी में कार्बोहाइड्रेट एवं फाइबर की प्रचुर मात्रा होती है । फाइबर एक ऐसा तत्व होता है जो पेट को साफ करने में और आंतों में जमी गंदगी को साफ करने में बहुत ही कारगर होता है ( benefits of ladyfinger in hindi ) । सप्ताह में दो से तीन बार भिंडी का सेवन आपके कॉन्स्टिपेशन की समस्या को ठीक कर देता है और आसानी से आपका पेट साफ हो जाता है ।

3) हार्ट – भिंडी में दो प्रकार के फाइबर होते हैं सॉल्युबल और दूसरा इनसोल्युबल फाइबर । सॉल्युबल फाइबर खून में मौजूद बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करता है साथ ही ट्राइग्लिसराइड को भी कम करने में मदद करता है जिसके कारण आपका ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है और आपका दिल भी स्वस्थ रहता है । यदि आप सप्ताह में दो से तीन बार भिंडी का सेवन करते हैं तो यह आपकी हार्ट स्ट्रोक की संभावना को काफी हद तक कम कर देता है ( benefits of ladyfinger in hindi )

4) डायबिटीज भिंडी डायबिटीज के मरीजों के लिए बहुत ही लाभकारी माना जाता है क्योंकि इसमें समृद्ध मात्रा में फाइबर प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट होता है जो खून में शुगर के लेवल को बढ़ने नहीं देता और ग्लूकोज की मात्रा को कंट्रोल करके रखता है । डायबिटीज के मरीजों को सप्ताह में दो से तीन बार भिंडी की सब्जी खाने की सलाह अवश्य दी जाती है ।

5) आँख – भिंडी विटामिन-A से भी समृद्ध होता है जिसके कारण यह आपकी आंखों से संबंधित समस्याओं को ठीक करने में जैसे कि आंखों में इंफेक्शन कम रोशनी आदि में मदद करता है ( bhindi ke fayde ) । भिंडी के सेवन से खून में वाइट ब्लड सेल की मात्रा भी बढ़ती है वहीं यदि आप भिंडी का सेवन निरंतर अपनी डाइट में करना शुरू करते हैं तो यह आपको मोतियाबिंद जैसी बड़ी बीमारी से भी बचा कर रख सकता है । पढ़ें – Home remedies for eyesight improvement |

6) वज़न घटाए यदि आपको तेजी से वजन घटाना है तो आपको किसी ऐसी चीज का सेवन करना चाहिए जिसमें फाइबर एवं एंटीऑक्सीडेंट की ज्यादा मात्रा हो और यह दोनों ही चीजें भिंडी में कूट-कूट कर भरी होती है । यदि आप हर रोज अपनी सब्जी में एक टाइम भी भिंडी की सब्जी को शामिल करें तो यह तेजी से आपका बेली फैट कम करने में आपकी सहायता कर सकती है ।

7) गर्भवस्था में लाभकारी – गर्भावस्था के दौरान मां के शरीर में फॉलिक एसिड की समृद्ध मात्रा होना बेहद जरूरी होती है क्योंकि फोलिक एसिड के कारण ही गर्भावस्था के दौरान भ्रूण के स्वास्थ्य का विकास होता है ( benefits of bhindi ) । यदि शरीर में फोलिक एसिड की कमी हो जाए तो शिशु के मस्तिष्क एवं रीढ़ की हड्डी प्रभावित हो सकती है इसलिए यदि आप एक गर्भवती महिला है तो आपको गर्भावस्था के दौरान अपनी डाइट में भिंडी को अवश्य शामिल करना चाहिए ।

8) कैंसर – आज के समय में कैंसर एक बहुत बड़ी बीमारी बन कर उभर रही है पर भिंडी कैंसर जैसी बड़ी बीमारी को रोकने में भी आपकी सहायता कर सकता है ( bhindi ke fayde ) । दरअसल भिंडी एक बहुत ही बेहतरीन एन्टीडायबिटिक, एंटीऑक्सीडेंट न्यूरोप्रोटेक्टिव, एंटीहाइपरलिपिडेमिक और थकावट रोधी गुण से भरी होती है जिसके कारण यह कैंसर जैसी बड़ी बीमारी को आपके शरीर में आने से रोकती है। ये है कैंसर के लक्षण |

9) स्वस्थ त्वचा – भिंडी में विटामिन-C और एंटीऑक्सीडेंट की प्रचुर मात्रा होने की वजह से इसका फायदा आपकी त्वचा को भी मिलता है । विटामिन-C आपकी त्वचा के दाग धब्बों को कम करता है, आपके चेहरे के रिंकल को कम करता है, डार्क सर्कल्स को कम करता है तो वहीं एंटी ऑक्सीडेंट आपकी त्वचा को जवान बनाने में एवं चमकदार बनाने में सहायता करता है।

10) स्वस्थ बाल – भिंडी में विटामिन-C की भी प्रचुर मात्रा होती है जिसके कारण यह आपके बालों के लिए भी फायदेमंद होता है ( bhindi ke fayde ) । भिंडी के सेवन से आपके बाल ज्यादा मुलायम एवं शाइनी बनते हैं साथ ही यह आपके बालों का झड़ना भी कम कर सकता है ।

भिंडी का उपयोग

भिंडी का उपयोग

1) भिंडी का भुजिया – भिंडी का भुजिया भिंडी को खाने का एक बेहद स्वादिष्ट तरीका है इसके लिए आप फ्राइंग पैन में दो से तीन चम्मच सरसों का तेल गर्म करें और उसमें छोटे बारीक कटे भिंडी को डालकर उसे अच्छी तरह फ्राई कर ले । जब यह क्रंची हो जाए तो आपका भिंडी का भुजिया तैयार है अब आप इसे रोटी या चावल किसी के साथ भी खा सकते हैं ।

2) भिंडी की सब्जी – भिंडी की सब्जी बहुत ही ज्यादा स्वादिष्ट और पौष्टिक होती है और ज्यादातर जगहों पर भिंडी की सब्जी का ही सेवन किया जाता है इसके लिए आप जिस तरह से अन्य सब्जियों को बनाते हैं उसी प्रकार से भिंडी की सब्जी भी बनाकर खाएं ।

3) भिंडी का अचार – कई राज्यों में खास करके नॉर्थ इंडिया में भिंडी के आचार का भी सेवन किया जाता है । भिंडी के आचार की सबसे खास बात यह है कि आप इसे एक बार बना कर रख देते हैं और धीरे-धीरे करके खाते हैं यह लंबे समय तक चलता है और जल्दी खराब नहीं होता ।

भिंडी के नुकसान

भिंडी के नुकसान – lady finger disadvantages

इसमें कोई शक नहीं है कि भिंडी एक बहुत ही गुणकारी सब्जी है पर यदि किसी भी चीज का सेवन जरूरत से ज्यादा किया जाए तो उसके साइड इफेक्ट्स भी शरीर को झेलने पड़ते हैं ।

1) भिंडी में समृद्ध मात्रा में फाइबर होता है जिसके कारण यदि आप ज्यादा भिंडी का सेवन करेंगे तो आपके शरीर में फाइबर की मात्रा बढ़ जाएगी । फाइबर की मात्रा अधिक होने के कारण पेट खराब हो सकता है, पेट में गैस, एसिडिटी जैसी समस्याएं भी सामने आ सकती है ।

2) भिंडी में कैल्शियम ऑक्सलेट की मात्रा अधिक होती है जिसके कारण यदि आप भिंडी ज्यादा खाएंगे तो आपको किडनी स्टोन यानी की पथरी की समस्या भी हो सकती है इसलिए भी आपको भिंडी का सेवन सीमित मात्रा में ही करना चाहिए ।

3) भिंडी से निकलने वाला प्रोटियॉलिटिक नामक एक तरल पदार्थ त्वचा के संपर्क में आते ही रिएक्शन करना शुरू कर देता है जिससे त्वचा संबंधित समस्याएं एवं त्वचा में घाव भी हो सकते हैं ।

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको भिंडी से संबंधित यह जानकारी पसंद आई होगी यदि आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें और यदि आपका कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में जरूर पूछें हम आपके सवालों का जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे | Healthkenuske से जुड़ने के लिए धन्यवाद ।

1 thought on “Bhindi ke fayde aur nuksan – भिंडी के 10 फायदे और नुकसान”

Leave a Comment