Ashwagandha ke fayde, upyog aur nuksan – अश्वगंधा चूर्ण के फायदे, उपयोग और नुकसान

आपने भी ashwagandha ke fayde के बारे में बहुत सुना होगा तभी आप आज इस लेख को इतनी उत्सुकता से पढ़ रहे हैं । आपको कई जगह यह जानकारी मिली होगी कि रुकी हुई हाइट को बढ़ाने के लिए अथवा वजन को बढ़ाने के लिए अथवा सेक्स पावर को बढ़ाने के लिए अश्वगंधा का सेवन किया जाता है और यह शरीर में टेस्टोस्टेरोन की मात्रा को भी बढ़ा देता है यह बात बिल्कुल सही है । अश्वगंधा की उत्पत्ति सबसे पहले भारत में हुई और भारत में हजारों वर्षों से ऋषि मुनियों के द्वारा अश्वगंधा का प्रयोग किया जाता रहा है ।

यही नहीं अब वैज्ञानिकों के द्वारा एलोपैथिक दवाइयों में भी अश्वगंधा का उपयोग किया जाने लगा है इसलिए आज हम अश्वगंधा से संबंधितपूरी जानकारी आपको देने जा रहे हैं जिसे पढ़ने के बाद आपको अश्वगंधा का संपूर्ण ज्ञान हो जाएगा । आज Healthkenuske कि इस लेख में आप जानेंगे अश्वगंधा क्या है, उसमें पाए जाने वाले तत्व, अश्वगंधा के फायदे, उपयोग और साथ ही हम जानेंगे अश्वगंधा के नुकसान । इसके बाद हम आपको बताएंगे कि अश्वगंधा कहां से खरीदें । इसलिए इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें क्योंकि अधूरी जानकारी सेहत के लिए खतरनाक हो सकती है ।

अश्वगंधा क्या है ?

अश्वगंधा के बारे में जानने से पहले आप यह जान लीजिए कि अश्वगंधा को “अश्वगंधा” क्यों कहा जाता है | अश्वगंधा को “अश्वगंधा” इसलिए कहा जाता है क्योंकि जब आप अश्वगंधा को smell करेंगे तो आपको अश्वगंधा से बिल्कुल घोड़े जैसी सुगंध मिलेगी और आप यह भी जान लीजिए कि अश्वगंधा का वैज्ञानिक नाम Withania Somnifera है । Withania पौधों की एक प्रजाति है वही Somnifera का मतलब होता है एक ऐसी चीज जो आपको relax कर देती है या सुला देती है ।

अश्वगंधा में क्या पाया जाता है ?

अश्वगंधा दरअसल अपने Withanolides के लिए जानी जाती है । अश्वगंधा में 40 Withanolides होते हैं, 12 Alkaloids होते हैं और बहुत सारे Cytoindosites होते हैं जो बहुत सारे तरीकों से बहुत सारे फायदे आपके शरीर को पहुंचाते हैं । अश्वगंधा के इतने सारे महत्त्वपूर्ण तत्व शरीर को कई फायदे देते है, तो चलिए अब जानते है ashwagandha ke fayde ।

ashwagandha ke fayde

अश्वगंधा के फायदे – ashwagandha ke fayde

1) मेमोरी पॉवर

आयुर्वेद में अश्वगंधा को मेद्य रसायन भी कहा गया है । इसके सेवन से आपका मेमोरी पावर बढ़ता है और सोचने समझने की शक्ति भी बढ़ती है । Ashwagandha ke fayde मेमोरी पॉवर को बढ़ा देते है ।

2) तनाव दूर करने में अश्वगंधा के फायदे

अश्वगंधा आपके शरीर में बनने वाले कॉर्टिसोल ( Cortisol ) नाम के हार्मोन को कम कर देता है, जिसके कारण आपका तनाव कम होता है और आपका दिमाग रिलैक्स होता है ।

ये भी पढ़ें – तनाव कैसे दूर करें

3) नींद

यदि आपको कम नींद आती है या नींद ना आने की बीमारी है तो आपको अश्वगंधा का सेवन अवश्य करना चाहिए यह आपके दिमाग को पूरी तरह रिलैक्स कर देगा और आपकी नींद में बढ़ोतरी होगी ।

ये भी पढ़ें – नींद न आने के कारण और अनिद्रा के आयुर्वेदिक उपचार

4) दिमाग की शक्ति

यदि आपको दिमाग से संबंधित कोई समस्या है या आप एक छात्र है या कोई ऐसा काम करते हैं जिसमें आपको ज्यादा दिमाग लगाने की आवश्यकता पड़ती है तो आपको अश्वगंधा का सेवन अवश्य करना चाहिए क्योंकि अश्वगंधा आपके दिमाग को न्यूक्लियर रिएक्टर जैसा बना देता है और दिमाग की शक्ति को दोगुना कर देता है ।

5) हार्ट अटैक में ashwagandha ke fayde

अश्वगंधा खून में मौजूद कोलेस्ट्रॉल ( Cholestrol ) और ट्राइग्लिसराइड ( trigliceroid ) की मात्रा को कम कर देता है । जिसके कारण आपको हार्ट अटैक यानी कि हृदयाघात होने का खतरा बहुत कम हो जाता है । इसलिए यदि आपके परिवार में किसी को हार्ट अटैक हुआ था तो आपको अश्वगंधा का सेवन अवश्य करना चाहिए । यदि आप अश्वगंधा का सेवन करना शुरू करते हैं तो यदि आपको किसी प्रकार की हार्ट प्रॉब्लम होगी तो वह ठीक होने लग जाएगी और यदि कोई हार्ट की समस्या नहीं है तो कभी भी नहीं होगी ( Source )

ये भी पढ़ें – हार्ट अटैक के लक्षण, कारण और इससे बचने के उपाय

6) डायबिटीज में अश्वगंधा के फायदे

अश्वगंधा के सेवन से आपके शरीर में मौजूद पैंक्रियाज एक्टिवेट हो जाता है और इंसुलिन बनाना शुरु कर देता है और यदि आपको टाइप टू डायबिटीज है जिसमें इंसुलिन के लिए इंजेक्शन लेने की जरूरत नहीं पड़ती तो आप अश्वगंधा का सेवन करते रहे धीरे-धीरे आपका डायबिटीज पूरी तरह ठीक हो जाएगा ।

ये भी पढ़ें – डायबिटीज के लक्षण, कारण और इलाज

7) हिमोग्लोबिन बढ़ाने में ashwagandha benefits in hindi

यदि आप अश्वगंधा का सेवन करना शुरू करते हैं तो यह आपके शरीर में खून की मात्रा को बढ़ाता है और आपके खून में हीमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ने लग जाती है जिसके कारण आपकी उम्र भी बढ़ती है और आप जवान दिखते हैं ।

ये भी पढ़ें – खून की कमी होने के कारण, लक्षण और इसके उपाय

8) मोटापा

यदि आप मोटे हैं और आपके शरीर में चर्बी चढ़ती चली जा रही है तो आप अश्वगंधा का सेवन करना शुरू करें । सिर्फ 15 दिन में आप देखेंगे कि आपको परिणाम मिल रहे हैं और आपका वजन घट रहा है । अश्वगंधा का सेवन लगातार करते रहे धीरे-धीरे यह आपके शरीर को उसके असली वजन तक लेकर आ जाएगा । साथ ही व्यायाम और exercise भी करते रहे । अश्वगंधा के फायदे मोटापे को भी कम कर देते है ।

ये भी पढ़ें – मोटापा बढ़ने के कारण और इसके उपाय

9) पतला-दुबला शरीर

यदि आपका शरीर पतला-दुबला है और आपके शरीर में खाया पीया नहीं लगता तो आपको अश्वगंधा का सेवन करना शुरू कर देना चाहिए । अश्वगंधा आपके शरीर में टेस्टोस्टेरोन की मात्रा को बूस्ट कर देता है और आपके मेटाबॉलिज्म को कम करता है, जिसके कारण आपका वजन बढ़ने लग जाता है । अश्वगंधा का सेवन करते रहे, कुछ महीनों में आपका वजन जितना होना चाहिए उतना हो जाएगा और साथ ही व्यायाम और एक्सरसाइज भी करते रहे ( Source )

10) कैंसर में ashwagandha ke fayde

अश्वगंधा की सबसे खास बात यह है कि यह आपके शरीर में Reactive Oxygen species को पैदा करना शुरू कर देते हैं । Reactive Oxygen species आपके शरीर में कैंसर सेल्स को पैदा होने से ही पहले रोक देते हैं । देखिए, जिस प्रकार पेस्टिसाइड से भरा हमारा खान-पान हो चुका है और जिस प्रकार के दूषित पर्यावरण में हम जी रहे हैं, यदि आप अश्वगंधा का सेवन करते हैं तो आप कैंसर जैसी बड़ी बीमारी से भी काफी हद तक बच सकते हैं ।

ये भी पढ़ें – कैंसर के लक्षण और इलाज

11) इंफेक्शन

अश्वगंधा की एक और खास बात यह है कि जब आप इसका सेवन करना शुरू करते हैं तो यह आपके शरीर की इम्यूनिटी पावर को बढ़ा देता है । जिसके कारण आप जल्दी बीमार नहीं पड़ते और ना ही आपको कोई इंफेक्शन जल्दी होता है इसलिए ऐसा देखा जाता है कि अश्वगंधा के सेवन करने वाले लोगों को सर्दी जुकाम और बुखार जल्दी नहीं होता ।

12) घुटनों का दर्द

यदि आपके घुटनों में सूजन रहती है या आपके घुटनों में हमेशा दर्द रहता है तो आप अश्वगंधा का सेवन शुरू कर दें, सिर्फ 15 दिन में आप देखेंगे कि आपके घुटनों का दर्द जाना शुरू हो जाएगा और आपका सूजन भी कम हो जाएगा । Ashwagandha ke fayde घुटनों के दर्द को ठीक कर सकते है ।

13) बॉडीबिल्डिंग में ashwagandha benefits in hindi

शरीर के अंदरूनी हिस्से ही बल्कि शरीर के बाहरी हिस्से भी अश्वगंधा के फायदे का लुफ्त उठाते है । यदि आप बॉडीबिल्डिंग काफी दिनों से कर रहे हैं और आपके शरीर पर मांस नहीं चढ़ रही है और ना ही आपका शरीर चौड़ा हो रहा है तो आप अश्वगंधा लेना शुरू करें । यह आपके शरीर में प्राकृतिक रूप से टेस्टोस्टरॉन ज्यादा पैदा करेगा जिसके कारण आपकी बॉडी जल्दी बनेगी ।

14) अर्थराइटिस

बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी में हुए एक शोध के अनुसार अश्वगंधा में anti-inflammatory तत्व होते हैं जो जोड़ों की सूजन और जोड़ों के दर्द को कम करने में मदद करते हैं । अर्थराइटिस एक बहुत ही दर्दनाक बीमारी है जिसमें लोगों का उठना बैठना और चलना फिरना मुश्किल हो जाता है । इसमें जोड़ों में सूजन और काफी तेज दर्द होने लगता है । इस समस्या को अश्वगंधा के द्वारा काफी हद तक कम किया जा सकता है यह बात शोध में साबित हो चुकी है ( Source )

15) थायराइड में अश्वगंधा के फायदे

यह नाम आपने अवश्य सुना होगा, हमारे गले के नीचे एक छोटी सी ग्रंथि होती है जिसे थायराइड ग्लैंड कहा जाता है । यह ग्लैंड थायरोक्सिन नाम का एक हार्मोन बनाता है पर जब किसी कारणवश हार्मोन का बन्ना कम या ज्यादा होने लगता है तो इस अवस्था को थायराइड की बीमारी कहा जाता है ।

ये भी पढ़ें – थायराइड के लक्षण, कारण और इलाज

इस बीमारी में व्यक्ति का वजन या तो कम होने लगता है या तो बहुत तेजी से बढ़ने लगता है । एक शोध में यह बात सामने निकल कर आई की अश्वगंधा के सेवन से थायराइड का असंतुलन ठीक होने लगता है और अगर आप नियमित रूप से अश्वगंधा का सेवन करते हैं तो आपको थायराइड होने की संभावना बेहद कम हो जाती है ( Source )

16) प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में ashwagandha benefits in hindi

अश्वगंधा की सबसे खूबसूरत बात यह है कि यह आपके शरीर को अंदर से मजबूत बनाता है और शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को काफी बढ़ा देता है जिसके कारण छोटी मोटी बीमारियां आपको होती ही नहीं और आप जल्दी बीमार भी नहीं पड़ते । यह बात एक शोध में भी साबित हो चुकी है की अश्वगंधा हमारे इम्यूनिटी को मजबूत बनाता है इसलिए अगर आप अपने आपको अंदर से मजबूत बनाना चाहते हैं तो आपको अश्वगंधा का सेवन अवश्य करना चाहिए ( Source )

17) एंटी एजिंग

एक स्टडी में पाया गया कि अश्वगंधा में एंटी एजिंग गुण पाए जाते हैं जो आपको लंबे समय तक जवान बनाए रखने में मदद करता है । दरअसल अश्वगंधा में एंटी ऑक्सीडेंट की समृद्ध मात्रा पाई जाती है जो शरीर में पैदा होने वाले फ्री रेडिकल्स को नष्ट कर देते हैं और जल्दी बुढ़ापा आने का कारण भी होता है यही नहीं फ्री रेडिकल्स को नष्ट करने के कारण कैंसर होने की संभावना भी बेहद कम हो जाती है ।

18) बालों के लिए अश्वगंधा के फायदे

बालों को काला और घना कौन नहीं रखना चाहता पर जैसे-जैसे समय बीतता है बाल झड़ते चले जाते हैं । NCBI की एक रिपोर्ट के अनुसार जिन लोगों के बाल थायराइड के बुरे प्रभाव के कारण झड़ रहे हैं वह लोग अगर अश्वगंधा का नियमित रूप से सेवन करते हैं तो उनके बाल झड़ने बिल्कुल बंद हो जाते हैं और अश्वगंधा के सेवन के कारण बालों का रंग बेहद काला और बाल काफी घने होने लग जाते हैं ( Source )

ये भी पढ़ें – बालों को झड़ने से रोकने के तरीके

19) Height बढ़ाए

एक शोध के अनुसार अश्वगंधा का सेवन करने से पिट्यूटरी ग्लैंड फिर से एक्टिवेट हो जाता है । पिट्यूटरी ग्लैंड शरीर का वह ग्लैंड होता है जो ग्रोथ हार्मोन पैदा करता है । जब यह ग्रोथ हार्मोन बनना बंद हो जाता है तो शरीर की लंबाई बढ़नी भी बंद हो जाती है पर एक शोध के अनुसार अश्वगंधा pituitary gland को फिर से एक्टिवेट कर देता है जिसके कारण फिर से ग्रोथ हार्मोन पैदा होने लगता है और रुकी हुई हाइट बढ़ने लगती है । Ashwagandha ke fayde हाइट को बढ़ा देते है ।

ये भी पढ़ें – हाइट बढ़ाने के घरेलु तरीके

हालांकि यह दवा 25 साल से कम उम्र के लोगों पर ही काम करती है अगर आपकी उम्र 18 साल से कम है तो यह आपको और भी बेहतरीन परिणाम दे सकती है । अश्वगंधा के फायदे के कारण और औषधीय गुणों की वजह से अश्वगंधा कई रोगों को ठीक करने में लाभकारी सिद्ध होता है।

आशा करता हूँ कि आपको ashwagandha ke fayde पसंद आए होंगे । देखिए, अश्वगंधा को मर्दों का टॉनिक कहा जाता है । जब आप अश्वगंधा का सेवन करना शुरू करते हैं तो आपका शरीर प्राकृतिक रूप से ज्यादा मात्रा में टेस्टोस्टेरोन बनाना शुरु कर देता है ।

आइए जानते हैं कि टेस्टोस्टरॉन क्या होता है ? टेस्टोस्टेरोन हार्मोन होता है वो चीज़ होती है, जिसके कारण एक लड़का मर्द बनता है और उसमें मर्दानगी आती है । अब चलिए जरा सा मर्दानगी का मतलब भी समझ लीजिए ।

मर्दानगी के 4 पैमाने होते है

  • शरीर पर अच्छी मांस पेशियां होना |
  • हड्डियों की चौड़ाई ज्यादा होना |
  • आवाज़ का गहरा और भारी होना |
  • बच्चा पैदा करने की काबिलियत होना |

दरअसल अश्वगंधा मर्दानगी के इन चारों पैमानों को बढ़ा देती है । अश्वगंधा लेने से आपके शरीर में मांसपेशियां बढ़ने लग जाती है, आपकी हड्डियां चौड़ी होने लग जाती है । अश्वगंधा लेने से टेस्टोस्टरॉन बढ़ने लग जाता है जिसके कारण आपकी आवाज गहरी और भारी हो जाती है और अश्वगंधा के सेवन करने से आपकी sperm quality, quantity और स्पर्म motility भी काफी हद तक बढ़ जाती है ।

अश्वगंधा का सेवन कैसे करे

अश्वगंधा का उपयोग कैसे करे / अश्वगंधा का सेवन कैसे करे ?

अश्वगंधा का सेवन कैसे करे अक्सर लोगों के मन में ये सवाल आता है । अगर आप अश्वगंधा खाना चाहते हैं तो सबसे बेहतर तरीका होगा कि आप पंसारी की दुकान से अश्वगंधा की सूखी जड़ खरीद लें और उसे मिक्सी में बारीक पीस लें और रोज सुबह उठकर खाली पेट में 5 ग्राम अश्वगंधा चूर्ण 10 ग्राम घी में मिलाकर उसमें 20 ग्राम मिश्री डालकर उसे आधा किलो दूध में तब तक उबालें जब तक उसमें एक उबाल ना आजाए, उसके बाद उसे पी लें और इसे पीने के बाद आप सीधा दोपहर का खाना ही खाएंगे । अश्वगंधा का उपयोग इस प्रकार से करने से आपको अश्वगंधा के फायदे जरूर मिलेंगे ।

एक बात और आप जान लीजिए कि यदि आप चाहते है कि अश्वगंधा का ज्यादा से ज्यादा फायदा आपको हो तो आपको इसे कम से कम 1 साल तक लेना होगा । अब 1 साल का मतलब भी यहां पर जान लीजिए । यदि आप 1 जनवरी से अश्वगंधा लेना शुरू करते हैं तो आपको कम से कम अगले साल की 1 जनवरी तक इसे अवश्य लेना चाहिए ।

आपको अश्वगंधा के कमाल के फायदे मिलेंगे, जो व्यक्ति 1 साल तक इस तरह से अश्वगंधा लेता रहेगा उसके शरीर पर मांस पेशियां चढ़ती ही चली जाएंगी, उसकी सेक्स पावर बढ़ जाएगी । एक बात और कि जो व्यक्ति रोज अश्वगंधा का सेवन करता है वह यदि भीड़ में भी खड़ा हो जाए तो अलग ही दिखाई देता है ।

ashwagandha ke nuksan

अश्वगंधा के नुकसान – ashwagandha ke nuksan

वैसे तो अश्वगंधा के नुकसान बहुत कम होते है पर आपको इस बारे में भी पता होना चाहिए कि किन लोगों को अश्वगंधा के सेवन से नुकसान हो सकता है । ये है अश्वगंधा के नुकसान –

1) यदि आपको ब्लड प्रेशर से संबंधित कोई समस्या है तो डॉक्टर के बिना परामर्श के अश्वगंधा का सेवन ना करें और यदि आप लो बीपी के मरीज हैं तो आपको अश्वगंधा का सेवन नहीं करना चाहिए ।

2) अश्वगंधा का यदि अधिक दूध ले लिया जाए तो आपको उल्टी हो सकती है या फिर आपका पेट भी खराब हो सकता है इसलिए अश्वगंधा का सही डोज़ लेना जरूरी है आप 1 दिन में 5 ग्राम से ज्यादा अश्वगंधा का सेवन ना करें ।

3) यदि आप का पाचन तंत्र कमजोर है तो आप अश्वगंधा का सेवन ना करें क्योंकि ऐसा करने से आप का पाचन तंत्र और खराब हो जाएगा इससे पहले आप 1 महीने तक त्रिफला का सेवन करें और जब त्रिफला आपके पाचन तंत्र को मजबूत कर दें तब आप अश्वगंधा का सेवन करना शुरू करें ।

ये भी पढ़ें – त्रिफला के फायदे, उपयोग और नुकसान

यहाँ से खरीदें अश्वगंधा और पाएं एक्स्ट्रा डिस्काउंट

दोस्तों अगर आप original quality का अश्वगंधा पाउडर खरीदना चाहते हैं तो आप नीचे बताए गए companies के अश्वगंधा को खरीद सकते है –

patanjali ashwagandha powder

1) पतंजलि अश्वगंधा पाउडर – पतंजलि इस समय भारत में एक नामी कंपनी है जिसकी स्थापना 2006 में बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण के द्वारा की गई थी । पतंजलि कंपनी जो खासकर आयुर्वेदिक products में बहुत ही अच्छा काम कर रही है और इनके products भी काफी उच्च quality के होते हैं । इसलिए आप पतंजलि कंपनी का अश्वगंधा पाउडर उपयोग कर सकते है । क्लिक कर खरीदें

dabur ashwagandha powder

2) डाबर अश्वगंधा पाउडर – डाबर कंपनी भारत में 1884 से काम कर रही है और मार्केट में डाबर कंपनी के और भी बहुत से आयुर्वेदिक products बिकते है जो लोगों के द्वारा काफी पसंद किये जाते है । उन्हीं में से एक है डाबर का अश्वगंधा पाउडर जो काफी अच्छी quality का है आप इसका उपयोग भी कर सकते हैं । क्लिक कर खरीदें

baidyanath ashwagandha powder

3) बैद्यनाथ का अश्वगंधा पाउडर – बैद्यनाथ कंपनी की स्थापना 1917 में की गई थी और यह भी एक भारतीय कंपनी है जो अलग-अलग प्रकार की आयुर्वेदिक products बनाती है । इस कंपनी के product भी काफी अच्छी quality के होते हैं तो आप इनका product भी इस्तेमाल कर सकते हैं । क्लिक कर खरीदें

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको यह लेख काफी पसंद आया होगा और आप ” अश्वगंधा के फायदे, उपयोग और नुकसान “ के बारे में बहुत ही अच्छी तरह से जान चुके होंगे । अगर आपके मन में अभी भी कोई सवाल है तो comment box में पूछे आपको 24 घंटे के भीतर आपके सवालों का जवाब मिल जाएगा । अगर आप चाहते है कि हमारी अगली पोस्ट की notification आप तक भी पहुंचे तो हमारी website healthkenuskhe.com को अभी subscribe कर ले, आपका दिन शुभ हो धन्यवाद ।

Leave a Comment

close