Ajwain ke fayde, ये है अजवाइन के 10 फायदे – carom seeds benefits in hindi

अजवाइन जो भारत की हर रसोई घर में पाई जाती है । उसे आयुर्वेद में एक बहुत ही ऊंची उपाधि दी गई है । भारत में इसे मसाले के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है पर यह औषधीय गुणों से भरी पड़ी है । अजवाइन को पित्त नाशक माना जाता है और इसीलिए जितनी भी बीमारियां पित्त बढ़ जाने के कारण होती है उन सभी बीमारियों को ठीक करने में अजवाइन मदद करता है ।

अजवाइन की तासीर गर्म होती है । अजवाइन में कई गुणकारी तत्व होते हैं जो शरीर को अनेकों तरह से लाभ पहुंचाते हैं । इस लेख में आज आप जानेंगे अजवाइन के 10 चमत्कारी फायदे ( ajwain ke fayde ), इस्तेमाल और कुछ साइड इफेक्ट्स |

Ajwain seeds

अजवाइन के 10 फायदे – ajwain ke fayde

1) पेट की हर समस्या करे दूर – अजवाइन पेट की हर समस्या को दूर करने में मदद करता है अजवाइन में एंटी एसिड गुण होते हैं जिसके कारण एसिडिटी अपच और पेट की अन्य समस्याएं जैसे कि गैस और कब्ज में भी यह राहत पहुंचाता है अगर आपको किसी भी प्रकार की पेट की समस्या है तो आपको अजवाइन का सेवन अवश्य करना चाहिए | पढ़ें – Gas ka ilaj |

कैसे करें इस्तेमाल

पेट की हर समस्या को दूर करने में अजवाइन बहुत ही लाभकारी होता है ( ajwain ke fayde ) | आप इसका सेवन पाउडर के रूप में करें यह ज्यादा फायदेमंद होगा इसके लिए आप एक छोटी चम्मच अजवाइन का पाउडर एक गिलास गुनगुने पानी के साथ रात में खाना खाने के 1 घंटे बाद लें ऐसा करने से आप की पेट की हर समस्या दूर होने लग जाएगी साथ ही आपको खुलकर भूख लगेगी और सुबह आपका पेट भी अच्छी तरह से साफ हो जाएगा | जानिए – गर्म पानी पीने के फायदे |

2) दिल के लिए फायदेमंद – जैसा कि हमने आपको बताया था कि अजवाइन पित्त नाशक माना जाता है इसलिए जितनी भी वित्त से संबंधित बीमारियां हैं उन्हें यह ठीक करता है अजवाइन के सेवन से खून में मौजूद कोलेस्ट्रॉल कम होता है साथ ही बीपी भी कंट्रोल में रहता है जिसके कारण दिल की बीमारियां होने की संभावनाएं कम हो जाती है |

3) अस्थमा के रोगियों के लिए लाभकारी – अगर आपको श्वास से संबंधित रोग है तथा अस्थमा की बीमारी है तो इसमें भी अजवाइन बहुत ही फायदेमंद होता है ( ajwain ke fayde ) | दरअसल अस्थमा में कार्मिनेटिव और एंटीस्पेज्मोडिक गुण पाए जाते हैं जो अस्थमा को कंट्रोल में रखने में सहायता करते हैं और यदि नियमित रूप से अजवाइन का सेवन रोज किया जाए तो कुछ वर्षों में अस्थमा जैसी लाइलाज बीमारी भी जड़ से खत्म की जा सकती है |

4) मुँह की सारी समस्याएँ करे ठीक – अगर आपको मुंह की कोई भी समस्या हो जैसे कि पायरिया मसूढ़ों में सूजन मुंह से बदबू आना तो इन सारी बीमारियों का इलाज अजवाइन से किया जा सकता है बस आप अजवाइन लेना शुरू कर दें पर यदि आपके दांतों में दर्द रहता है तो आप अजवाइन का पाउडर लॉन्ग के तेल में मिलाकर अपने दांतो पर रखें दांत दर्द में कमी आ जाएगी ।

5) डायरिया में लाभकारी – डायरिया एक ऐसी बैक्टीरियल बीमारी है जिसमें शरीर बहुत कमजोर पड़ जाता है और शरीर का सारा पानी धीरे-धीरे टॉयलेट के जरिए बाहर निकलने लगता है और इस अवस्था में व्यक्ति की मौत भी हो सकती है डायरिया को अजवाइन से ठीक किया जा सकता है |

कैसे करें इस्तेमाल

डायरिया को ठीक करने के लिए एक छोटी चम्मच अजवायन को एक गिलास पानी में अच्छी तरह उबाल लें और उसे ठंडा करके दिन में दो बार पिए ऐसा 2 से 3 दिन करने से आपका डायरिया ठीक हो जाएगा |

ajwain ke fayde

6) जोड़ो के दर्द – ज्यादातर वृद्ध लोगों में जोड़ों का दर्द पाया जाता है जोड़ों के दर्द के कारण उठना बैठना काफी मुश्किल हो जाता है पर इस समस्या में भी अजवाइन बहुत ही लाभकारी होती है ( ajwain ke fayde ) | जोड़ों के दर्द को कम करने के लिए आप किसी भी तेल में अजवायन डालकर उस तेल से मालिश करें जोड़ों के दर्द में आराम मिलेगा |

7) डायबिटीज – डायबिटीज आज के समय में एक लाइलाज बीमारी है पर आयुर्वेद में इस बीमारी को ठीक करने के कई नुस्खे मौजूद हैं उन्हीं में से एक बहुत ही काम का नुस्खा माना जाता है अजवाइन का नुस्खा जिससे डायबिटीज हमेशा के लिए भी ठीक की जा सकती है पर इसके लिए आपको 30 दिन इस नुस्खे का प्रयोग करना होगा | पढ़ें – Diabetes in hindi |

कैसे करें इस्तेमाल

डायबिटीज को ठीक करने के लिए आप नीम के ताजा पत्ते छांव में सुखा लें और उन पतियों का पाउडर बना लें अब रोज रात में खाना खाने के आधे घंटे बाद एक गिलास गर्म दूध में एक चम्मच नीम और आधा चम्मच अजवाइन और आधा चम्मच जीरा पाउडर मिला दे और उस दूध का सेवन 30 दिनों तक लगातार करें ऐसा करने से डायबिटीज जड़ से खत्म हो सकती है हालांकि आपको यह बात भी ध्यान में रखनी होगी कि आप ज्यादा मीठी चीजों का सेवन ना करें एवं अपने खान-पान और योग पर विशेष ध्यान दें | जानिए – Neem ke patte ke fayde in hindi |

8) पीरियड्स में लाभकारी – जिस प्रकार का खानपान एवं दिनचर्या हो चली है महिलाओं को पीरियड्स में काफी ज्यादा समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है जैसे कि अधिक दर्द अनियमितता आदि पर इस समस्या से भी अजवाइन आपको छुटकारा दिला सकता है इसके लिए आप नीचे बताए गए तरीके से अजवाइन का सेवन करें |

कैसे करें इस्तेमाल

पीरियड्स अनियमितता और दर्द को कम करने के लिए आप दो चम्मच अजवाइन को एक मिट्टी के बर्तन में पानी में भिगोकर रात भर के लिए छोड़ दें और सुबह उठकर उसे पीसकर पी जाए ऐसा करने से पीरियड्स की समस्याएं कम होंगी और आपको दर्द में भी राहत मिलेगा |

9) वज़न करे कम ( ajwain ke fayde ) – अजवाइन वजन कम करने का एक बहुत ही अच्छा और आसान उपाय माना जाता है अजवाइन से आप अपना वजन बहुत ही आसानी से कम कर सकते हैं इसके लिए आप रोज सुबह उठकर खाली पेट में एक चम्मच अजवाइन का पाउडर एक गिलास गुनगुने पानी के साथ ले ले आप 1 महीने में 4 से 5 किलो वजन कम कर पाएंगे साथ ही एक्सरसाइज और योग अवश्य करें इससे तेजी से वजन घटाने में आपको सहायता मिलेगी |

10) गठिया में फ़ायदेमंद – अजवाइन गठिया में भी काफी फायदेमंद माना जाता है अजवाइन में कुछ ऐसे तत्व होते हैं जो हड्डियों को पोषण देते हैं साथ ही हड्डियों के घनत्व को बढ़ाने में भी सहायता करते हैं आइए जानते हैं गठिया में अजवाइन का कैसे करें इस्तेमाल |

कैसे करें इस्तेमाल

गठिया में अजवाइन का फायदा ( ajwain ke fayde ) लेने के लिए आप रोज रात में एक चम्मच अजवाइन का पाउडर एक गिलास गुनगुने पानी के साथ लें एवं सरसों के तेल में अजवाइन को गर्म करके उस तेल से उस जगह पर मालिश करें जहां पर आप को दर्द होता हो ऐसा करने से गठिया में काफी राहत मिलती है |

Ajwain ke fayde

अजवाइन के 3 नुकसान ( साइड इफेक्ट्स )

1) अगर आप सोचते हैं कि आप ज्यादा अजवाइन खाएंगे तो आपका पाचन तंत्र और भी अच्छे से काम करेगा तो यह आपकी गलतफहमी है प्रकृति का एक नियम है कि किसी चीज का ज्यादा इस्तेमाल नुकसानदायक होता है इसलिए जितनी मात्रा बताई गई है उतना ही अजवाइन आए तभी वह आपके पाचन तंत्र के लिए लाभदायक होगा वरना अधिक सेवन करने से यह आपकी एसिडिटी को बढ़ा भी सकता है | पढ़ें – पेट साफ करने के तरीके |

2) सीमित मात्रा मैं अगर अजवाइन का सेवन किया जाए तो यह जरूर बहुत फायदेमंद होता है पर यदि जरूरत से ज्यादा अधिक माता मैच अजवाइन का सेवन किया जाए तो सिर दर्द पेट में जलन जी मचलना आदि का कारण भी बन सकता है |

3) गर्भवती महिलाएं अगर कब्ज को ठीक करने के लिए या पेट को साफ करने के लिए अधिक अजवाइन का सेवन करती हैं तो उनके बच्चे को भी नुकसान हो सकता है इसलिए गर्भवती महिलाओं को अजवाइन का सेवन कम से कम ही करना चाहिए |

Leave a Comment