खून की कमी होने के 10 कारण, लक्षण और खून की कमी के उपाय

हीमोग्लोबिन क्या है ?

हीमोग्लोबिन क्या है

हीमोग्लोबिन एक प्रकार का लोह प्रोटीन है जो खून में मौजूद होता है । हीमोग्लोबिन की वजह से ही पूरे शरीर में ऑक्सीजन की सप्लाई हो पाती है यानी इसलिए हीमोग्लोबिन को खून में मौजूद ऑक्सीजन बैग भी कहा जा सकता है । हीमोग्लोबिन का खून में कम होना एक अच्छा संकेत नहीं है जब आपके शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी होती है तो इसके कारण शरीर में खून की कमी भी होने लगती है जो कई बड़ी बड़ी बीमारियां बीमारियों को न्योता देने लगती है ।

कई बार लोगों को यह बात पता ही नहीं होती कि उनके शरीर में भी हीमोग्लोबिन की कमी है हो सकता है कि आपके अंदर भी इस समय हीमोग्लोबिनकी कमी हो और आपको इस बारे में पता ही ना हो इसलिए healthkenuskhe के इस लेख में आज हम बात करेंगे कि आपका हीमोग्लोबिन लेवल कितना होना चाहिए किस वजह से हीमोग्लोबिन की मात्रा खून में कम होती है इसके क्या लक्षण है और खून की कमी के उपाय

हीमोग्लोबिन की मात्रा खून में कितनी होनी चाहिए ?

  • पुरुष – एक स्वस्थ पुरुष में 13.5 ग्राम/100 मिली होना चाहिए |
  • महिला – एक स्वस्थ महिला में 12.0 ग्राम/100 मिली होना चाहिए |

हीमोग्लोबिन की कमी के लक्षण

हीमोग्लोबिन के कम होने की कई वजहें हो सकती है पर इनमें से कुछ मुख्य वजह हमने नीचे बताई हैं ।

  • कमजोरी महसूस होना ।
  • शरीर हल्का पीला पड़ना ।
  • काम में या पढ़ाई में मन ना लगना ।
  • दिल का धड़कना तेज हो जाना ।
  • चक्कर आना ।
  • किसी भी काम को करने पर तुरंत थक जाना ।

हीमोग्लोबिन कम होने के कारण

हीमोग्लोबिन कम होने के कारण

हीमोग्लोबिन कम होने के कई कारण हो सकते हैं पर हमने नीचे हीमोग्लोबिन कम होने के कुछ मुख्य कारण बताए हैं।

  • गलत खानपान की आदत ।
  • शरीर में आयरन की कमी ।
  • विटामिन B12 की कमी ।
  • किसी वजह से रेड ब्लड सेल का नष्ट होना ।
  • अधिक खून बह जाने के कारण ।
  • महिलाओं में पीरियड्स के कारण ।
  • हार्ट संबंधित बीमारियों के कारण । पढ़ें – हार्ट अटैक के बारे में ।
  • कैंसर के कारण ।
  • पेट से संबंधित बीमारियां होने के कारण ।
  • शरीर में फोलिक एसिड की कमी के कारण ।

हीमोग्लोबिन बढ़ाने के उपाय

हीमोग्लोबिन की कमी अगर आपको है तो आपको अपने डॉक्टर से अवश्य मिलना चाहिए और तुरंत ट्रीटमेंट लेना चाहिए क्योंकि हीमोग्लोबिन का शरीर में कम होना एक अच्छा संकेत नहीं है क्योंकि इसके कारण आपको एनीमिया जैसी गंभीर बीमारी भी हो सकती है इसलिए आप जितना जल्दी हीमोग्लोबिन की रिकवरी कर सके आपको करनी चाहिए । इसके अलावा हम आपको बताएंगे कि वह कौन से और भी घरेलू तरीके हैं जिनसे आप प्राकृतिक रूप से हीमोग्लोबिन की मात्रा को फिर से अपने शरीर में नियंत्रण में ला सकते हैं ( हीमोग्लोबिन बढ़ाने के उपाय )

खून की कमी के उपाय

खून की कमी के उपाय

1) चुकंदर – हम सभी जानते हैं कि चुकंदर खाने से हमारे शरीर में खून की वृद्धि होती है पर चुकंदर के रस में नींबू के रस को मिलाकर पीने से चुकंदर में मौजूद आईरन हमारे शरीर में अच्छी तरह से अब्सॉर्ब होता है । हीमोग्लोबिन की तुरंत वृद्धि करने के लिए चुकंदर से भी ज्यादा फायदेमंद इनके पत्ते होते हैं ( खून की कमी के उपाय ) । आप रोजाना सुबह खाली पेट में चुकंदर और इसके पत्तों के रस में नींबू का रस मिलाकर पिए आपके हीमोग्लोबिन में बहुत जल्दी वृद्धि होने लगेगी ।

2) पालक – पालक आयरन से समृद्ध होता है या यूं कहें कि आयरन का सबसे अच्छा और सबसे ताजा स्रोत पालक को ही माना जाता है । यदि आप पालक का जूस पीते हैं तो आपको काफी मात्रा में आयरन मिल जाता है जिसके कारण आपके शरीर में खून की कमी पूरी होती है और हीमोग्लोबिन का स्तर भी बढ़ता है ।

3) अनार – अनार में आयरन, विटामिन-C और फोलिक एसिड की भी समृद्ध मात्रा होती है । यदि आप अनार का जूस भी पीते हैं तो यह भी आपके शरीर में खून बढ़ाने में अथवा हीमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाने में काफी सहायता करता है ( खून की कमी के उपाय )

4) चना और गुड़ – आपने कई बार यह बात सुनी होगी कि चना और गुड़ खाने से खून बढ़ता है । यह बात बिल्कुल सही है चना जो कैल्शियम और फास्फोरस से समृद्ध होता है और गुड़ में आयरन की प्रचुर मात्रा होती है ( blood badhane ke upay ) । यह ना सिर्फ शरीर में खून की मात्रा को बढ़ाता है बल्कि आपकी हड्डियों को मजबूत बनाता है और आपके मांस पेशियों को भी मजबूत करता है रोज सुबह यदि आप चना और गुड़ का सेवन करते हैं तो धीरे-धीरे हीमोग्लोबिन की कमी पूरी होने लग जाती है ।

5) पपीता – पपीता दुनिया का सबसे अमीर फल माना जाता है क्योंकि इसमें दुनिया के जितने तत्व पाए जाते हैं उतना किसी और फल में नहीं होते । पपीते का सेवन करने से आप कई बीमारियों से बचे रहते हैं और इसमें मौजूद विटामिन-C, फोलिक एसिड और आईरन आपके खून को बढ़ाने में मदद करता है ( खून की कमी के उपाय ) और हीमोग्लोबिन की मात्रा को भी बढ़ा देता है ।

6) संतरा – संतरे के जूस में पर्याप्त मात्रा में विटामिन-C होता है और विटामिन-C खून को बढ़ाने में काफी अहम होता है । यदि आप रोज संतरे का रस पीते हैं तो यह काफी तेजी से आपके खून में हीमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाता है और यदि आप संतरा खाते हैं तो यह आपके पेट की सफाई भी करता है एवं आपकी त्वचा को सुंदर बनाए रखता है ( blood badhane ke upay )

7) मेथी – मेथी आयरन, फॉलिक एसिड, प्रोटीन और एंटी ऑक्सीडेंट से भरपूर होता है । यह एक ऐसी औषधि है जिसे अमृत कहा जाए तो कम नहीं है । यह अनेकों बीमारियों में काम आता है पर यदि आप मेथी का पानी रोज सुबह खाली पेट में पीते हैं तो यह आपकी एनीमिया जैसी गंभीर बीमारी को भी ठीक कर सकता है और आपकी हीमोग्लोबिन की कमी को भी पूरा करता है ।

8) शहद – शहद एंटीऑक्सीडेंट, फ्रुक्टोज़ और फोलिक एसिड का भंडार होता है । जिन लोगों को थकान कमजोरी चक्कर आना जैसे लक्षण होते हैं उन लोगों को रोज सुबह गुनगुने पानी में शहद मिलाकर पीना चाहिए ऐसा करने से उनके खून में हीमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ती है और शरीर भी ताकतवर और ऊर्जावान बनता है ( खून की कमी के उपाय )

9) आंवले का जूस – आंवले को अमृत फल भी कहा गया है इस अकेले आंवले के अनेकों फायदे होते हैं । जो व्यक्ति आंवले का सेवन सही तरीके से करना जान गया वह गंभीर से गंभीर बीमारियों को भी ठीक कर सकता है । आंवले का जूस विटामिन-C से भरपूर होता है और यदि आप रोज सुबह खाली पेट में आंवले का रस पीते हैं तो आपके शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी नहीं रहती साथ ही यह आपके बालों और त्वचा को भी स्वस्थ बनाता है । पढ़ें – Amla ke fayde |

10) गेंहू के ज्वार का रस – गेहूं का ज्वारा यानी कि गेहूं के घास का रस जो आपको आसानी से मार्केट में मिल जाएगा । आप चाहे तो खेत से गेहूं के ज्वार को निकाल कर उसे पीसकर इसका रस भी निकाल सकते हैं ( खून की कमी के उपाय ) । इसमें फोलिक एसिड, आयरन और विटामिन-C की मात्रा बहुत ज्यादा होती है जिसके कारण यह बहुत जल्दी एनीमिया जैसी गंभीर बीमारी को ठीक करने में सक्षम होता है । रोज़ एक गिलास गेहूं के ज्वार का रस सुबह खाली पेट में 15 दिनों तक पीने से आपके हीमोग्लोबिन की कमी पूरी हो जाती है ।

11) एप्पल साइडर विनेगर – अगर ऊपर बताए गए किसी भी नुस्खे से आपके हीमोग्लोबिन की कमी पूरी नहीं हो रही है तो आप एप्पल साइडर विनेगर को एक गिलास पानी में मिलाकर पीना शुरू करें आपके हीमोग्लोबिन की समस्या बिल्कुल ठीक हो जाएगी एनीमिया जैसी बीमारी को भी ठीक करने में यह काफी कारगर होता है इसके लिए 10 ML एप्पल साइडर विनेगर को एक गिलास गुनगुने पानी में मिलाकर सुबह खाली पेट में पीएं आपको बहुत फायदा होगा ( blood badhane ke upay )

12) शिलाजीत – शिलाजीत एक बहुत ही शक्तिशाली तत्व है जो हिमालय की चट्टानों से निकलता है । शिलाजीत में प्रोटीन, कैल्शियम, फॉस्फोरस, पोटैशियम, विटामिन-C, विटामिन-A, फोलिक एसिड, आयरन जैसे तत्व भरे पड़े होते हैं । शिलाजीत के सेवन से शरीर ऊर्जावान बनता है और शारीरिक कमजोरियां दूर होती है ( खून की कमी के उपाय ) । शिलाजीत एनीमिया जैसी बीमारी को भी दूर करता है साथ ही खून में हीमोग्लोबिन की मात्रा को भी नियंत्रण में रखता है ।

हीमोग्लोबिन की कमी ठीक करने के लिए खाएं नॉनवेज

13) चिकन – जो लोग नॉनवेज का सेवन करते हैं उन लोगों में वेजिटेरियन लोगों की अपेक्षा हीमोग्लोबिन की कमी कम ही होती है ऐसा इसलिए क्योंकि नॉनवेज में आयरन की मात्रा ज्यादा होती है जिसके कारण शरीर में हीमोग्लोबिन और खून की कमी ना के बराबर ही होती है ( खून की कमी के उपाय ) । यदि आप भी हीमोग्लोबिन की कमी से जूझ रहे हैं तो आपको चिकन जरूर खाना चाहिए अगर आपके लिए मुमकिन हो सके तो चिकन के सेवन से हीमोग्लोबिन की कमी डोर हो जाती है ।

14) मटन – मटन को रेड मीट भी कहा जाता है जो फोलिक एसिड, विटामिन-C और आयरन से भरपूर होता है । यदि किसी व्यक्ति को हीमोग्लोबिन की कमी या शरीर में खून की कमी है तो उसे मटन खिलाना शुरू कर दें सिर्फ 15 दिनों में उसके शरीर में खून की कमी ठीक होने लग जाती है और हीमोग्लोबिन की कमी भी पूरी हो जाती है ( blood badhane ke upay )

15) लिवर – किसी भी पशु का लिवर हीमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाने के लिए और भी फायदेमंद होता है । लीवर में आयरन एवं फोलिक एसिड की भरपूर मात्रा होती है और लीवर के 3 से 4 बार सेवन करने से ही शरीर में खून की मात्रा बढ़ जाती है और खून में हीमोग्लोबिन की मात्रा भी बढ़ने लग जाती है ( हीमोग्लोबिन बढ़ाने के उपाय ) इसलिए यदि आपके लिए मुमकिन हो सके तो आप लीवर का सेवन अवश्य करें, हीमोग्लोबिन की कमी शर्तिया ठीक हो जाएगी ।

हीमोग्लोबिन की कमी ठीक करने के लिए खाएं ड्राईफ्रूट्स

16) अंजीर – अंजीर आयरन से समृद्ध होता है । यदि आप रोज सुबह चार से पांच अंजीर खाते हैं तो यह आपके हीमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाता है और खून की कमी को ठीक करने में आपकी सहायता करता है ।

खाने का तरीका – रात में सोने से पहले चार से पांच अंजीर पानी में भिगोकर रख दें और सुबह उठकर भीगे हुए अंजीरों को खा जाएं ( खून की कमी के उपाय )

17) किशमिश – किशमिश में भी विटामिन-C, फोलिक एसिड और आयरन की समृद्ध मात्रा होती है जो खून में मौजूद हीमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाता है और आपके शरीर को भी ऊर्जावान बनाए रखता है ।

खाने का तरीका – रात में सोने से पहले एक मुट्ठी किशमिश पानी में भिगोकर रख दें और सुबह उठकर यह भीगे हुए किशमिश खा जाएं ( खून की कमी के उपाय )

खून की कमी होने पर इन बातों का रखें ध्यान

1) गलत खान-पान – हर बीमारी की शुरुआत हमारे पेट से होती है और हमारे पेट में बीमारी की शुरुआत खाने से होती है इसलिए हमेशा कोशिश करें कि आप घर का स्वच्छ और सादा भोजन करें । बाहर का भोजन जिसमें पौष्टिक तत्वों की मात्रा लगभग शून्य होती है ऐसी चीजों को खाने से बचें ।

2) सब्ज़ियाँ और फल – रोज़ अपनी डाइट में हरी सब्जियां, हरी पत्तेदार सब्जियां, फल शामिल करें क्योंकि यह चीजें शरीर में खून की मात्रा को बढ़ाने के लिए काफी महत्वपूर्ण मानी जाती है ।

3) चाय, कॉफी और चौकलेट – इन 3 चीज़ों का सेवन कम करें क्योंकि चाय और कॉफी हमारे खून को एसिडिक बना देता है और हमारे शरीर में पित्त दोष बढ़ जाता है। जिसके कारण खून बनने में बाधा आती है इसलिए आप जितने समय तक खून की कमी से जूझ रहे हैं कम से कम इतने वक्त तक चाय कॉफी और चॉकलेट का सेवन बिल्कुल ना करें ।

4) कोल्ड्रिंक्स – बाजार में मिलने वाले कोल्ड्रिंक्स और मीठे ड्रिंक्स में शुगर और सोडे की मात्रा ज्यादा होती है जो खून में फ्री रेडिकल्स को ज्यादा पैदा करते हैं जो खून को ऑक्सीजन ले जाने में बाधा बनती है इसलिए इन चीजों का सेवन बिल्कुल ना करें।

5) मैदा – मैदे से बनी चीजों का भी सेवन कम से कम करें क्योंकि मैदे में ग्लूटिन नाम का एक तत्व होता है जो खाने में मौजूद आयरन को खून में मिलने से रोकता है और मैदे के सेवन से आपके पाचन तंत्र को भी नुकसान होता है और यह कब्ज का एक बड़ा कारण बनता है ।

6) ठंडी चीजें – ज्यादा ठंडी और फ्रीज में रखी चीजों का सेवन कम से कम करें और हमेशा गर्म भोजन या ताजा भोजन का ही सेवन करें इससे आपका पाचनतंत्र और आपका खून हमेशा स्वस्थ रहेगा ।

दोस्तों, उम्मीद करता हूं कि आपको हीमोग्लोबिन- से संबंधित सारी जानकारियां मिल चुकी होंगी । यदि फिर भी आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में जाकर पूछें । हम आपके सवालों का जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे healthkenuskhe से जुड़े रहने के लिए आपका, धन्यवाद ।

2 thoughts on “खून की कमी होने के 10 कारण, लक्षण और खून की कमी के उपाय”

Leave a Comment